Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीबीआइ छापे से नाराज मां-बेटी ने की आत्महत्या

सीबीआइ के बार-बार आने और घंटों-घंटों पूछताछ से दोनों बहूत तंग आ चुकी थी।

सीबीआइ छापे से नाराज मां-बेटी ने की आत्महत्या
नई दिल्ली. कॉरपोरेट मामलों के महानिदेशक वी के बंसल की पत्नी और बेटी ने आत्महत्या कर ली है। दोनों ने आत्महत्या सीबीआइ के छापे और बार-बार पूछताछ से चिंतित होकर की है। बंसल की पत्नी सत्यबाला और बेटी नेहा ने सोसाइड नोट भी छोड़ा है। आत्महत्या के दौरान घटनास्थल पर घर की दो सहायक भी मौजूद थी। सीबीआइ ने वी के बंसल को दिल्ली के एक हॉटल के पास से रिश्वत लेते रंगे हाथो पकड़ा था।
सीबीआइ की बार बार पूछताछ से थी परेशान
बता दें कि सीबीआइ ने घरवालों से बार बार पूछ्ताछ की जिसके चलते मां-बेटी काफी परेशान हो गई थी। दोनों ने अपने सहायको रचना और आरती से घर का काम जल्दी कर उन्हें कमरें में जाने को कहा और फिर मां बेटी ने अपने-अपने कमरें में खुद को पंखे से लटकाकर जान दे दी। दोनों सहायको ने काफी देर तक कोई हलचल न होने के चलते दोनो के उनके कमरो का जायजा लिया, जहां उन्हे दोनों की लाश पखें से लटकी मिली। सहायको ने इसकी खबर अपार्टमेंट के स्टाफ को दी। मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मियों ने नेहा के कमरे का दरवाजा तोड़ा। जानकारी के मुताबिक पुलिस को घटनास्थल से सोसाइड नोट मिला जिसमें दोनों ने इसके लिए किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराया है। वहीं अपार्टमेंट के लोगों का कहना है कि सीबीआइ के बार-बार आने और घंटों-घंटों पूछताछ से दोनों बहुत तंग आ चुकी थी।
16 जुलाई को हुई थी छापेमारी
बता दें कि बंसल हरियाणा के हिसार से है और परिवार के साथ दिल्ली के आइपी एक्सटेंशन के नीलकंठ अपार्टमेंट के पहले फ्लोर पर रहते थे। बंसल का एक बेटा भी है जो कि प्रोप्रटी कंसलटेंट है। बंसल के घर सीबीआइ की रेड गत 16 जुलाई को पड़ी थी बता दें कि जब से बंसल का बेटा योगेश घर नहीं आ रहा है। बता दें कि सीबीआइ ने बंसल के घर से दस्तावेजों को जब्त कर घरवालों से भी घंटो पूछताछ की।
क्या था मामला
इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, सीबीआइ ने नौ लाख रुपये के कथित रिश्वत मामले में कॉरपोरेट मामलों के महानिदेशक बीके बंसल को गिरफ्तार किया था। बंसल कॉरपोरेट मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव स्तर के अधिकारी हैं। बंसल को विश्वदीप बंसल नामक व्यक्ति के साथ एक होटल से पकड़ा गया। दोनों उस वक्त एक कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए लेनदेन कर रहे थे।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top