Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली: उपचुनाव से नाखुश आप सरकार, 13 वार्डों में से मिली महज पांच सीटें

13 में से 12 सीटों की उम्मीद बांध रखी थी लेकिन पार्टी को पांच सीटों से ही संतोष करना पड़ा।

दिल्ली: उपचुनाव से नाखुश आप सरकार, 13 वार्डों में से मिली महज पांच सीटें
नई दिल्ली. दिल्ली नगर निगम को 13 वार्डों पर हुए उपचुनाव में आप को मिली महज पांच सीटों से पार्टी खुश नहीं है। विधानसभा चुनाव को आधार मानकर प्रचार कर रही पार्टी ने 13 में से 12 सीटों की उम्मीद बांध रखी थी लेकिन पार्टी को पांच सीटों से ही संतोष करना पड़ा। हालांकि नतीजों के बाद पार्टी दावा कर रही है कि वह सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी।
आप के दिल्ली संयोजक दिलीप पांडे ने कहा कि विधानसभा चुनाव और दिल्ली नगर निगम के चुनाव में मुद्दे अलग होते हैं। दोनों चुनाव अंतर है, ऐसे में यह कहना कि दिल्ली वालों का पार्टी से भरोसा टूट रहा है गलत है। उन्होंने कहा कि पहली बार चुनाव लड़ने के बाद भी पार्टी पहली पंसद बनी और सबसे ज्यादा पांच सीटें जीती।
वहीं अन्य नेताओं ने कहा कि यह चुनाव हमारे लिए सबक है। हम इसपर विचार करते हुए अभी से तैयारी शुरू कर देंगे। हमें उम्मीद है कि 2017 में तीनों निगम में आप की सरकार होगी। इस संबंध में दिल्ली डॉयलॉग कमिशन के उपाध्यक्ष आशीष खेतान ने कहा कि आप ने दिल्ली सचिवालय में जैसी ईमानदार व्यवस्था लागू की है वैसी ही व्यवस्था 2017 में एमसीडी में होगी। हमें एमसीडी के अस्पताल व स्कूलों को चमकाना है। चुनाव प्रणाम के बाद जीते पांचों सांसद सीएम अरविंद केजरीवाल से मिले।
बनी पहली नंबर की पार्टी
नगर निगम उपचुनाव में आप पार्टी नंबर वन बन कर उभरी। मुख्यमंत्री व आप संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली नगर निगम में भाजपा-कांग्रेस सत्ता में हैं बावजूद इसके दिल्लीवासियों ने बाहरी पार्टी (आप) को सबसे अधिक सीटें दी। इस बेहतर जीत के लिए दिल्लीवालों को धन्यवाद। उन्होंने कहा कि 2017 में होने वाले नगर निगम चुनाव में हमें सभी सीटें जितनी हैं।
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारियां-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top