Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली में ढहाई गई मस्जिद, खौफ में हैं मुसलमान

इस पुरी घटना के बाद मुश्ताक के परिवार को लगातार घमकी मिल रही है। जिस वजह से उनका पूरा परिवार सदमे में हैं।

दिल्ली में ढहाई गई मस्जिद, खौफ में हैं मुसलमान

बाबरी मस्जिद कांड के बाद एक बार फिर पूर्वोत्तर दिल्ली में लोगों ने फिर से नया कारनामा कर दिया। पूर्वोतर दिल्ली के अम्बे विहार में 400 से 500 लोगों की भीड़ ने एक 'मस्जिद' को ढहा दिया है। ये घटना पिछले बुधवार यानी सात जून की है। दिल्ली पुलिस को इसकी सुचना दी जाने के बाद।

बीबीसी की खबर के मुताबिक मुश्ताक़ अहमद का घर ढहाई गई मस्जिद के दो घरों के बाद है। मुश्ताक अहमद ने बयान दिया है कि उनका परिवार वहां नमाज पढ़ता था। लेकिन अब इस मस्जिद को ढहा दिया गया है। इस पुरी घटना के बाद मुश्ताक के परिवार को लगातार घमकी मिल रही है। जिस वजह से उनका पूरा परिवार सदमे में हैं।

पाक क़ुरान की बेईज्जती का है गम
अहमद की पत्नी आमीना बिना प्लास्टर के दीवारों वाले कमरे में लगी चौकी के पास खड़ी हैं। आमीना को इस बात का ग़म नहीं कि मस्जिद ढहा दी गई, लेकिन उन्हें 'पाक क़ुरान की बेहुरमती (बेईज्ज़ती) किए जाने का बेहद ग़म है'। उनका कहना है कि उन्हें लगातार धमकियां मिल रही हैं । मामला ठंडा होने के बाद उन्हें इसका परिणाम भी भुगतना पड़्गा। इस घटना के बाद कुछ लोग अम्बे कॉलोनी छोड़ रहे है। आमीना के पड़ोस में दो हिंदू परिवार हैं, लेकिन इस वक़्त वो वहां मौजूद नहीं हैं, बताया गया,''सब काम पर गए हैं'।
कैसे हुआ विध्वंस
उस बुधवार भी कुछ ऐसा ही हुआ था। विमलेश मौर्य ने भी मस्जिद तोड़ने वाली भीड़ को देखा था, वो कहती हैं, "400 से 500 लोगों की भीड़ थी. लोग काम पर गए हुए थे।मैं नहीं बता सकती कहां से आई थी, लेकिन उन लोगों ने मस्जिद गिरा दी"।
मुश्ताक़ और कॉलोनी के दूसरे मुसलमान के मुताबिक़ कि मस्जिद बनाने का काम चंद माह पहले ही शुरू हुआ था और नमाज़ भी वहां अदा करने का काम रमज़ान में ही शुरू हुआ था।
मुसलमान वहां एक छोटा मदरसा भी चला रहे थे , जहां बच्चों को धार्मिक शिक्षा दी जा रही थी।
पुलिस कर रही छानबीन
पुलिस ने मामले में ज़मीन के मालिक -अकबर अली की शिकायत पर आठ लोगों के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज की है और दो लोगों को गिरफ़्तार भी किया गया है।
दर्जन भर पुलिस की टुकड़ी मस्जिद के पास मौजूद एक ख़ाली प्लॉट में खाट और कुर्सियां डालकर चौकीदारी पर लगी है।
पूर्वोतर दिल्ली के अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर देवेंद्र आर्य ने कहा कि पुलिस शाम के वक्त - ख़ासतौर पर इफ़्तार के वक्त वहां रास्तों और गलियों का दौरा कर रही है।
Next Story
Top