Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ये हैं आम आदमी पार्टी की हार के 5 बड़े कारण

एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी दूसरे नंबर पर है।

ये हैं आम आदमी पार्टी की हार के 5 बड़े कारण
X

नगर निगम चुनावों में आम आदमी पार्टी की करारी हार हुई है और भाजपा का विजय रथ बेरोकटोक आगे बढ़ता दिख रहा है। इससे पहले पांच राज्यों में हुए चुनावों में भी भाजपा ने अपनी धमक बरकरार रखी और चार राज्यों में उनकी सरकार बनी।

ऐसी ही धमाकेदार जीत आम आदमी पार्टी पार्टी को दिल्ली के पिछले विधानसभा चुनाव में हासिल हुई थी। केजरीवाल के नेतृत्व में पार्टी ने 70 में से 67 सीटों पर जीत दर्ज़ की थी और भाजपा-कांग्रेस का लगभग सफाया कर दिया था। फिर ऐसी क्या वजहें रहीं कि आम आदमी पार्टी लगातार ही ढलान पर नज़र आ रही है।

ये हैं वो पांच कारण, जिनसे समझा जा सकता है कि 'आप' के अवसान की क्या वजहें रही हैं:

1. आप की हार का प्रमुख कारण प्रदेश में उनकी ख़राब छवि है, दिल्ली में सीएम की कुर्सी संभालने के बाद अरविंद हमेशा ही कंट्रोवर्सी में रहे हैं।
2. दिल्ली में सत्ता में आने से पहले केजरीवाल ने जनता से कई सुनहरे चुनावी वादे किये थे जैसे 24 घंटे बिजली का वादा, फ्री बिजली पानी का वादा, स्वछता का वादा, हालांकि उन्होंने कुछ हद तक दिल्ली की गरीब जनता को ये सुविधाएं मुहैया करायीं पर इससे दिल्ली की मध्यम वर्गीय जनता को लगा कि सीएम उनकी समस्या के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठा रहे हैं।
3. सीएम बनने से पहले केजरीवाल ने कहा था कि वो कोई सुरक्षा नहीं लेंगे पर उनके पास Z श्रेणी की सुरक्षा है।
4. उन्होंने जन लोक पाल विधेयक पास कराने की बात भी कही थी, जो अभी तक पास नहीं हो पाया।
5. जनता की समस्याओं का सुनकर समाधान करने के लिए केजरीवाल ने जनता दरबार की शुरुआत की थी, लेकिन सीम बनने के बाद से ये भी बंद है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story