Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली: बवाना उपचुनाव में ''आप'' की जीत की 5 बड़ी वजह

दिल्ली की बवाना विधानसभा सीट पर आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार रामचंद्र जीत गए हैं।

दिल्ली: बवाना उपचुनाव में आप की जीत की 5 बड़ी वजह
X

दिल्ली समेत तीन राज्यों में उपचुनाव के परिणाम घोषित हो चुके हैं। दिल्ली की बवाना विधानसभा सीट पर आम आदमी पार्टी कब्जा कर लिया है। इस सीट पर आप केउम्मीदवार रामचंद्र जीत गए हैं। रामचंद्र ने 24052 वोट मिले हैं।

दिल्ली में आप की बवाना सीट को लेकर केजरीवाल पार्टी ने बनाया था ये प्लान....

- सबसे पहले इस सीट को लेकर दिल्ली संयोजक और मंत्री गोपाल राय बवाना ने काफी वक्त तक डेरा डाले रखा। लोगों के संपर्क में हमेशा रहे और घर-घर और गली गली जाकर लोगों से निजी तौर पर मिले।

ये भी पढ़ें - मनोज तिवारी ने दिल्ली में बीजेपी की हार की जिम्मेदारी ली

- आप को मनोवैज्ञानिक बढ़त तब मिली जब 2013 में यहां से बीजेपी के विधायक रहे गुग्गन सिंह आप में शामिल हो गए। इससे भी लोगों में आप के प्रति झुकाव बढ़ा।

- बवाना में प्रचार के लिये आप नेताओं ने खास रणनीति तैयार की। सीएम अरविंद केजरीवाल ने पदयात्रा और जनसभाओं में शामिल हुए। पार्टी ने दावा भी किया था कि 26 गांव उनके संपर्क में हैं।

- इसमें हार की वजह खुद बीजेपी उम्मीदवार वेद प्रकाश भी रहे क्योंकि वेद प्रकाश पहले आम आदमी पार्टी में थे। बाद में आप छोड़ कर बीजेपी में शामिल हो गए थे। पार्टी ने प्रचार के दौरान कहा कि इस सीट पर आम आदमी पार्टी का ही बागी नेता बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहा है।

- नगर निगम चुनाव, राजौरी गार्डन विधानसभा उपचुनाव में हार के बाद इस सीट को जीतने के लिए पार्टी की प्रतिष्ठा का सवाल बन गया था। और सबसे अहम बात की इस सीट पर पहली बार वीवीपीएटी (वोटर वेरिफाएबल पेपर ऑडिट ट्रेल) वाली इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों का उपयोग मतदान के लिए किया गया। जिससे वोटर को तभी पता चल गया की उसने किसको वोट दिया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story