Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीएम केजरीवाल ने एयर पॉल्यूशन से निपटने के लिए बताए 10 उपाय

केजरीवाल ने कहा कि जरूरत पड़ी तो एक बार फिर से दिल्ली में ऑड इवन फॉर्म्युला लागू कर दिया जाएगा।

सीएम केजरीवाल ने एयर पॉल्यूशन से निपटने के लिए बताए 10 उपाय
नई दिल्ली. दिल्ली में प्रदूषण के अनियंत्रित होते स्तर पर काबू पाने के लिए तेजी से कदम उठाने की कवायद में जुट गई है। इसके लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को अपने घर पर केबिनेट की आपात बैठक की। बैठक में कई फैसले लिए गए। इसमें सबसे अहम रहा कि तीन दिन तक स्कूल बंद रखे जाएंगे और अगले पांच दिन तक दिल्ली और आस पास भवनों को गिराने का काम नहीं होगा। इससे धूल से होने वाले प्रदूषण को कम करने कर कोशिश की जाएगी। यहां एक बात और सामने आई है कि केंद्र सरकार से दिल्ली में कृत्रिम बारिश करवाने की बात की जाएगी, जिससे प्रदूषण के स्तर में कमी की संभानाएं हैं।
1. राजधानी में सोमवार से तीन दिन तक के लिए सभी स्कूल बंद रहेंगे। कल से दिल्ली की सड़कों पर पानी का छिड़काव किया जाएगा।
2. अगले पांच दिनों के लिए दिल्ली में निर्माण कार्य पर रोक लगा दी गई है। साथ ही डिमॉलिशन (ढहाने) पर भी रोक लगा दी गई है।
3. अगले 10 दिनों तक दिल्ली में जेनरेटर का प्रयोग प्रतिबंधित कर दिया गया है, हालांकि हॉस्पिटल्स और इमर्जेंसी जगहों पर इनका इस्तेमाल किया जा सकता है।
4. केजरीवाल ने कहा कि जरूरत पड़ी तो एक बार फिर से दिल्ली में ऑड ईवन फॉर्म्युला लागू कर दिया जाएगा।
5. मुख्यमंत्री ने लोगों से घरों में रहने की अपील की है और जितना संभव हो, घर से ही काम करने की कोशिश करें।
6. पत्तों को जलाने पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है. एक मोबाइल ऐप्लिकेशन तैयार की जा रही है जिसके ज़रिए अधिकारियों को सूचना दी जा सकती है कि फलां इलाके में पत्तों को जलाया जा रहा है।
7. बता दें कि दिल्ली के उप राज्यपाल नजीब जंग ने भी सोमवार को प्रदूषण पर एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है।
8. बदरपुर प्लांट को अगले 10 दिन के लिए बंद कर दिया गया है. वैक्यूम क्लीनिंग दस तारीख से शुरू होगी और पीडब्लूडी की हर 100 फुट चौड़ी सड़क को हफ्ते में एक बार वैक्यूम क्लीन किया जाएगा।
9. सीएम ने कहा कि कैबिनेट ने आर्टिफिशल रेन (कृत्रिम वर्षा) के विकल्प पर भी बात की है और इस पर अब केंद्र की ओर से सहयोग चाहिए होगा।
10. सीएम ने यह भी कहा, ठूठ का जलाए जाना जारी रहेगा और इसलिए जल्द ही राहत की उम्मीद नहीं कर सकते।
गौरतलब है कि एक दिन पहले केजरीवाल ने प्रदूषण के स्तर पर चिंता जताते हुए दिल्ली को गैस का चैम्बर बताया था। दिल्ली में कई जगह प्रदूषण का लेवल सुरक्षित मानकों से सत्रह गुना पाया गया था।
साभार - एनडीटीवी

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top