Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारत में हर रोज बन रहे 1 लाख पीपीई किट, 59 हजार स्वेदेशी वेंटिलेटर बनाने के आदेश जारी

देश में भले ही कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं, लेकिन सरकार अपनी तैयारियों लेकर पूरी तरह संतुष्ट है। मंत्रिसमूह की बैठक में दावा किया गया कि भारत में हालात पूरी तरह नियंत्रण में हैं। बावजूद किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने दी बड़ी खुशखबरी, कहा - फरवरी 2021 तक कोरोना के रह जाएंगे केवल 40 हजार मामले
X
डॉ हर्षवर्धन

देश में भले ही कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं, लेकिन सरकार अपनी तैयारियों लेकर पूरी तरह संतुष्ट है। मंत्रिसमूह की बैठक में दावा किया गया कि भारत में हालात पूरी तरह नियंत्रण में हैं। बावजूद किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

दावा किया गया कि देश में रोजाना 1 लाख से ज्यादा पीपीई किट बन रहे हैं। घरेलू निर्माताओं को ही 59 हजार वेंटिलेटर बनाने का आदेश भी दिया जा चुका है। मंत्रिसमूह की तेरहवीं बैठक में कोरोना से लड़ने के लिए सरकार की तैयारियों का व्योरा देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि अच्छी खबर है कि देश में कोरोना से ठीक होने की दर 20.66 फीसदी है। अभी तक 5062 मरीज इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं।

उन्होंने कहा कि बावजूद हालात से निपटने के लिए सरकार की तैयारी पूरी है। देश में रोजाना 1 लाख से ज्यादा पीपीई किट और एन 95 मॉस्क का निर्माण किया जा रहा है। देश में इस समय पीपीई किट के 104 और एन 95 मास्क के 3 घरेलू विनिर्माता इसके उत्पादन में जुटे हुए हैं।

उन्होंने कहा कि इसके अलावा घरेलू विनिर्माताओं के द्वारा ही देश में वेंटिलेटर का उत्पादन भी शुरू हो गया है। सरकार ने इन्हीं में से 9 निर्माताओं के जरिए 59 हजार से ज्यादा वेंटिलेटर बनाने का आर्डर दे दिया है। जिनकी इसी माह आपूर्ति हो जाएगी।

Next Story