Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Election Results: दिल्ली चुनाव हारने के बाद भी बीजेपी को मिली ये खुशी, आप भी जानें

Delhi Election Results: दिल्ली चुनाव 2020 में बीजेपी बुरी तरह से हार गई है। लेकिन इस बार वो कुछ ऐसा कर गई, जो पिछले चुनाव में कर पाना मुमकिन नहीं था।

Delhi Election Results: दिल्ली चुनाव हारने के बाद भी बीजेपी को मिली ये खुशी, पिछले चुनाव से बेहतर रहा 2020 के चुनाव का प्रदर्शन
X
बीजेपी

Delhi Election Results: दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में अरविंद केजरीवाल की सरकार बहुमत से ज्यादा सीटें लेकर विजयी हुई है। वहीं बीजेपी पार्टी को दोबारा बुरी तरह से हार मिली है। लेकिन 2020 के दिल्ली चुनाव में हार मिलने के बाद भी बीजेपी को एक खुशी मिली है। बीजेपी ने दिल्ली चुनाव 2020 में विपक्षी पार्टी का दर्जा पाने जितनी सीट पा ली हैं।

पिछले चुनाव में 3 ही मिल पाई थी सीट

दिल्ली चुनाव 2015 में बीजेपी को तीन सीटें मिली थी। जो विपक्षी दल का दर्जा पाने के लिए पर्याप्त नहीं थी। अंत में अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी पर दया करके उन्हें विपक्षी पार्टी का दर्जा दिला दिया था।

विपक्षी पार्टी का दर्जा पाने की शर्त

विपक्षी पार्टी का दर्जा पाने के लिए किसी भी पार्टी को सदन के सीटों की संख्या का 10 प्रतिशत सीट जीतना होता है। इसका मतलब है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव 70 सीटों पर लड़ी जाती है। तो किसी भी पार्टी को विपक्षी पार्टी का दर्जा पाने के लिए कम से कम 7 सीटें जीतना जरुरी होगा।

2015 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 3 ही सीटें मिल पाई थी जो कि पर्याप्त नहीं था। तो अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी पर दया दिखाते हुए बीजेपी के नेता विजेन्द्र गुप्ता को विपक्षी नेता का दर्जा दिया था। लेकिन इस बार बीजेपी ने 8 सीटें जीत ली है जो कि विपक्षी पार्टी बनने के शर्त से ज्यादा है। इसलिए इस बार वो शान से विपक्षी पार्टी बनकर सदन में अपनी बात रखने में सक्षम हो पाएंगे।

कैसे किया जाता है विपक्षी नेता के चुनाव

विपक्षी नेता के चुनाव के लिए किसी भी पार्टी के विधायक के नेता का चुनना होता है। नेता चुनने के बाद इसकी सूचना विधानसभा सचिवालय को दी जाती है। उसके बाद विधानसभा सचिवालय के द्वारा ऑफिसियल तौर पर उस नेता को विपक्षी नेता का दर्जा दिया जाता है।

Next Story
Top