logo
Breaking

गांव छोटा लेकिन सोच बड़ी, महिला कमांडो टीम बना उठाया गांव को स्वच्छ और नशा मुक्त करने का जिम्मा

गरियाबंद के ग्राम पतोरी में महिला कमांडो ने अपने गांव को स्वच्छ रखने के साथ-साथ गलत काम करने वालों और नशे से ग्रामिणों को दूर रखने की अभिनव पहल की है। गांव की यह महिला कमांडो गांव साफ सुथरा रखने के ​साथ लोगों नशे जैसी बुरी आदतों से बचाने में दिन रात जुटी हुई हैं। इतना ही गांव की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह महिलाएं रात में पहरेदार बनकर घुमती हैं। ताकि गांव में किसी तरह की अनहोनी घटना न हो।

गांव छोटा लेकिन सोच बड़ी, महिला कमांडो टीम बना उठाया गांव को स्वच्छ और नशा मुक्त करने का जिम्मा

गरियाबंद के ग्राम पतोरी में महिला कमांडो ने अपने गांव को स्वच्छ रखने के साथ-साथ गलत काम करने वालों और नशे से ग्रामिणों को दूर रखने की अभिनव पहल की है।

गांव की यह महिला कमांडो गांव साफ सुथरा रखने के ​साथ लोगों नशे जैसी बुरी आदतों से बचाने में दिन रात जुटी हुई हैं। इतना ही गांव की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह महिलाएं रात में पहरेदार बनकर घुमती हैं। ताकि गांव में किसी तरह की अनहोनी घटना न हो।
फिंगेश्वर की ग्राम पंचायत गनियारी के आश्रित ग्राम पतोरी वैसे तो बहुत छोटा है लेकिन यहां कि महिलाओं की सोच बहुत ही बड़ी और तारीफे काबिल है। ग्राम पतोरी के महिलाएं रोज की तरह सुबह-सुबह बिना मुह में कपड़ा या मास्क लगाए गली मोहल्ले सहित निस्तारी के प्रमुख आवागमन मार्ग में बजबजाती गंदगी को साफ करने में जुट जाती हैं, ताकि गांव के लोग स्वच्छ हवा में सांस ले सकें।
नारी शक्ति महिला कमांडो की अध्यक्ष महेश्वरी साहू बताती हैं हमारी 30 से भी अधिक महिलाओं की कमांडो टीम है। हमारा उद्देश्य गांव को साफ सुथरा बनाकर स्वच्छता का संदेश देना है। सुबह अपने घर का काम निपटाकर सभी झाड़ू फावड़ा लेकर निकल जाती हैं। रात में भी पहरेदारी करती हैं इसमें विशेष परिस्थितियों में फिंगेश्वर पुलिस से भी सहयोग मिलता है।
Share it
Top