logo
Breaking

वायरल वीडियो ने सियासी गलियारों में मचाई खलबली, नेताओं ने कहा-विरोधी पार्टी की चाल है, करेंगे मानहानी का दावा

छत्तीसगढ़ की सियासत और राजनेताओं की सीडी का गहरा नाता रहा है। 2001 में मध्यप्रदेश से अलग होने के साथ ही प्रदेश में नेताओं की सीडी का सियासी खेल शुरू हुआ था।

वायरल वीडियो ने सियासी गलियारों में मचाई खलबली, नेताओं ने कहा-विरोधी पार्टी की चाल है, करेंगे मानहानी का दावा

छत्तीसगढ़ की सियासत और राजनेताओं की सीडी का गहरा नाता रहा है। 2001 में मध्यप्रदेश से अलग होने के साथ ही प्रदेश में नेताओं की सीडी का सियासी खेल शुरू हुआ था। इसके बाद अनवरत चुनाव से पहले ऐसी सीडियां सामने आती रही है, जो नेताओं को बेनकाब करने का दावा करती है। सीडी कांड में प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री अजीत जोगी से लेकर भाजपा के कद्दावर नेता दिलीप सिंह जुदेव और राजेश मुणत जैसे नेताओं फंस चुके हैं। अब विधानसभा चुनाव 2018 से पहले सोशल मीडिया पर प्रदेश के कई दिग्गज सांसदों का वीडियो सामने आया है, जिसमें वे भाजपा सरकार और संघ के खिलाफ बोलते दिखाई दे रहे हैं।

बता दें कि बीते दिनों एक सोशल मीडिया के माध्यम से महासमुंद सांसद चंदूलाल साहू, रायपुर सांसद रमेश बैस, कोरबा सांसद बंशी लाल महतो और नंद कुमार साय के स्टिंग ऑपरेशन के अलग-अगल वीडियो वायरल हुए थे। वीडियो चुनाव से ऐन पहले वायरल किया गया था। विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रदेश के सियासी गलियारों में माहौल पहले ही गरम है वहीं, इस वीडियो के वायरल होते ही प्रदेश की सियासत और गरमा गई है।

जहां वीडियो में यह दावा किया जा रहा है कि नेता सरकार और संघ के खिलाफ बोल रहे हैं वहीं, नेताओं ने इस वीडियो को फर्जी और विरोधी पार्टी की चाल बताया है। यहां तक महासमुंद सांसद चंदूलाल साहू ने तो स्टिंग ऑपरेशन करने वाले के खिलाफ मानहानी का दावा करने की भी बात कही है।

वायरल वीडियो के सबंध में महासमुंद सांसद चंदूलाल साहू ने कहा कि ये फर्जी वीडियो है। विरोधी पार्टी अपनी हार से बौखलाई हुई है और इसी के चलते चुनाव से ऐन पहले वीडियो वायरल कर भाजपा सरकार और उनके नेताओं की छवी खराब करने का प्रयास किया जा रहा है। इस मामले को लेकर मैं न्यायालय तक जाउंगा और स्टिंग करने वाले के खिलाफ मानहानी का दावा करुंगा।

कोरबा सांसद बंशीलाल महतो ने कहा कि संघ और मेरा लंबे समय से गहरा नाता रहा है। इसस लिहाज से संघ और सरकार के खिलाफ बालने का सवाल ही पैदा नहीं होता। विरोधी पार्टी के लोग संचार क्रांति का दुरुपयोग कर मेरे और मेरे बेटे की छवी को खराब करने का प्रयास कर रहे हैं। लगातार भाजपा की जीत से बौखलाकर गलत हथकंडे अपना रहे हैं।

रायपुर सांसद रमेश बैस ने मीडियो से बात करते हुए कहा कि मुझे हाल ही में वीडियों के बारे में पता चला। कांग्रेस पार्टी पैसे लेकर टिकट बांटने के मामले को दबाने के लिए यह हथकंडे अपना रही है।

ये फर्जी है, इस ध्यान से देखने से आपके सामने दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। भााजपा की लगातार जीत से बौखलाई कांग्रेस पार्टी भाजपा के नेताओं की छवी खराब करने का प्रयास कर रही है। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह आज छत्तीसगढ़ आ रहे हैं, वे ही तय करेंगे इस मामले में क्या कार्रवाई करनी है।

Share it
Top