logo
Breaking

विकास नहीं तो वोट नहीं, ग्रामीणों ने दी लोकसभा चुनाव बहिष्कार की चेतावनी

विकास नहीं तो वोट नहीं, इस बात को लेकर गरियाबंद के परेवापाली के ग्रामीणों ने विधानसभा चुनाव के बाद अब आगामी लोकसभा चुनाव के बहिष्कार की चेतावनी जारी कर दी है।

विकास नहीं तो वोट नहीं, ग्रामीणों ने दी लोकसभा चुनाव बहिष्कार की चेतावनी

विकास नहीं तो वोट नहीं, इस बात को लेकर गरियाबंद के परेवापाली के ग्रामीणों ने विधानसभा चुनाव के बाद अब आगामी लोकसभा चुनाव के बहिष्कार की चेतावनी जारी कर दी है।

ओडिसा सीमा से लगे गरियांबद जिले के परेवापाली के ग्रामीणों ने एक बार फिर चुनाव बहिष्कार करने का मन बना लिया है। ग्रामीणों ने इसकी जानकारी बकायदा प्रशासन के जिम्मेदार नुमांईदों को सौंप दी है।
ग्रामीणों का आरोप है कि आज भी उनके गॉव में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध नही है, ना तो पहुंच मार्ग है और ना ही पेयजल और शिक्षा जैसी बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध है। जबकि अपनी इन मांगो को लेकर वे सालों से जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के चक्कर काट रहे है।
ग्रामीणों के मुताबिक विधानसभा चुनाव के बहिष्कार की चेतावनी के बाद नेताओं और अधिकारियों ने गॉव पहुंचकर चुनाव खत्म होते ही उनकी समस्याओं के समाधान का आश्वासन दिया था। मगर अबतक कोई पहल नही हुयी जिसके चलते उन्होंने एक बार फिर चुनाव बहिष्कार की चेतावनी जारी की है।
ग्रामीणों का आवेदन लेने के बाद देवभोग एसडीएम की जो प्रतिक्रिया सामने आयी है उसके मुताबिक ग्रामीणों की मांगे बहुत ज्यादा है, मांगे जल्द पुरा होंगी इसकी उम्मीद खुद उन्हें भी नही है, हालांकि ग्रामीणों को उन्होंने मांगे जल्द पूरी करने का आश्वासन दिया है।
सड़क, शिक्षा और पेयजल जैसी मांगे भी यदि सरकार में बैठे जिम्मेदार अधिकारियों को बड़ी लगे और उनको पुरा करने में भी फिलहाल उन्हें और समय की जरुरत महसूस हो तो समझ सकते है कि जिले में विकास की रफ्तार कितनी तेजी से बढ़ रही है, ऐसे में देखने वाली बात होगी कि अपनी मांगो को लेकर ग्रामीणों को अब ओर कितने दिन इंतजार करना होगा।
Share it
Top