Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बहनों को लिए देवदूत बनकर आए जवान, बाढ़ के पानी से भरे पुल पर खड़े होकर बनाई मानव श्रृंखला

एक ओर जहां पूरा देश रक्षाबंधन का पर्व मना रहे है वहीं दूसरी तरफ सुकमा में तैनात पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने अपनी कलाईयां सुनी रखकर बहनों को उनके भाईयों से मिलाने में देवदूत साबित हो रहे हैं।

बहनों को लिए देवदूत बनकर आए जवान, बाढ़ के पानी से भरे पुल पर खड़े होकर बनाई मानव श्रृंखला

सुकमा। एक ओर जहां पूरा देश रक्षाबंधन का पर्व मना रहे है वहीं दूसरी तरफ सुकमा में तैनात पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने अपनी कलाईयां सुनी रखकर बहनों को उनके भाईयों से मिलाने में देवदूत साबित हो रहे हैं। पिछले दिनों हुई लगातार हुई बारिश की वजह बाढ़ आने से बस्तर के हालात कुछ बिगड़ गए थे इसमें सुकमा के गादीरास मलगेर पुल बाढ़ के पानी में डूब गया था।


जिसकी वजह ग्रामीणों को एक जगह से दूसरी जगह जाने में भी काफी परेशानी हो रही थी। शुक्रवार को रक्षा बंधन के अवसर पर पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों पुल पर मानव श्रृंखला बनाकर ग्रामीणों को पूल पार कराया। जवानों एक छोर से दूसरे छोर तक रस्सी बांध दी और फिर उसे पकड़कर खड़े हो गए। ताकि लोग बिना किसी डर के आसानी से रास्ते का अंदाजा लगाकर पुल को पार सकें।


बस्तर समेत जिले में हुई भारी बारिश से आज भी कई नदी-नाले उफान पर है। उसकी वजह से अंदुरूनी इलाकों का सड़क संपर्क टूटा हुआ है। गुरुवार को सुकमा के गादीरास में बहने वाली मलगेर नदी पर बना पुल बाढ़ के पानी में डूब गया था। इसकी वजह से ग्रामीणों को एक जगह से दूसरी जगह जाने में भी काफी परेशानी हो रही थी।



Share it
Top