Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पत्रकरिता विश्वविद्यालय ने हनुमान पर रखा शोध संगोष्ठी, विवाद बढने पर अपना कार्यक्रम होने से किया इंकार

कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय में दो दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय शोध संगोष्ठी का आयोजन 7 एवं 8 सितम्बर को किया गया है.

पत्रकरिता विश्वविद्यालय ने हनुमान पर रखा शोध संगोष्ठी, विवाद बढने पर अपना कार्यक्रम होने से किया इंकार
X
कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय में दो दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय शोध संगोष्ठी का आयोजन 7 एवं 8 सितम्बर को किया गया है. संगोष्ठी में वैश्विक संस्कृति में हनुमान एवं आध्यात्मिक संचार विषय पर वक्ता अपना शोध पत्र प्रस्तुत करेंगे. इसे लेकर जोरशोर से तैयारिया भी चल रही है.
इस संगोष्ठी में जो विषय रखे गए है उसे लेकर अब सवाल खड़े होने शुरू हो गए है इसके बाद विश्वविद्यालय प्रबंधन ने अपने को विवाद से दूर कर लिया है. विश्वविद्यालय की ओर से पक्ष रखा गया है कि वे कार्यक्रम के न तो आयोजक है और न ही कार्यक्रम में उनकी सीधी कोई भूमिका है. सिर्फ विश्वविद्यालय ने कार्यक्रम के लिए स्थान उपलब्ध कराया है.
यह कार्यक्रम यूपी सरकार के संस्कृति मंत्रालय द्वारा आयोजित है और वे ही कार्यक्रम की तैयारी कर रहे है. पत्रकारिता विश्वविद्यालय में आयोजित दो दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय शोध संगोष्ठी में देश विदेश के कई नामी हस्तियों के साथ भगवान् हनुमान के कथावाचक पंडित विजय शंकर मेहता भी शामिल होंगे. इस कार्यक्रम में यूपी संस्कृति मंत्रालय के प्रमुख सचिव भी हिस्सा लेंगे.

विश्विद्यालय का कार्यक्रम नहीं है

इस मामले में विवि का पक्ष रखते हुए प्रो. मानसिंह परमार ने बताया कि अन्तर्राष्ट्रीय शोध संगोष्ठी का कार्यक्रम यूपी संस्कृति मंत्रालय का है. इसमें 60 शोध पत्र भी रखे जायेंगे. कार्यक्रम की सारी तैयारिया और विषय उनके द्वारा ही तय किये गए है.विवि सिर्फ उनकी मदद कर रहा है.

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story