Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आदिवासियों ने किया पुलिस पर पथराव, वन विभाग की टीम पर हमला करने के मामले में कार्रवाई करने पहुंची थी टीम

17 नामजद लोगों के साथ पूरे गांव के खिलाफ किया गया एफआईआर दर्ज। पढ़िए पूरी खबर-

आदिवासियों ने किया पुलिस पर पथराव, वन विभाग की टीम पर हमला करने के मामले में कार्रवाई करने पहुंची थी टीम
X

मुंगेली। वन विभाग की शिकायत पर कार्रवाई करने पहुंची पुलिस की टीम पर बैगा आदिवासियों ने पथराव कर दिया। दरअसल पुलिस बल वन विभाग की टीम से मारपीट करने के आरोप में 8 लोगों को गिरफ्तार करने वनग्राम नेवासखार पहुंची थी। इस दौरान ग्रामीणों ने पुलिस पर एकपक्षीय कार्रवाई का आरोप लगाते हुए पुलिस पर हमला कर दिया।

क्या है मामला

गौरतलब है कि कल रविवार को वन विभाग की टीम सुदूर वनांचल नेवासखार पहुंची थी। वन विभाग की टीम का कहना है कि एटीआर के ट्रैप कैमरे में तीर धनुष के साथ शिकारियों को देखने के बाद टीम कार्रवाई करने गांव पहुंची थी तभी ग्रामीणों ने उन पर हमला कर दिया।

वन विभाग की टीम का आरोप है कि उन्हें बन्धक बनाकर उनके साथ मारपीट की गई है। इस हमले में रेंजर सन्दीप सिंह सहित 3 लोग गम्भीर रूप से घायल हो गये, जिन्हें इलाज के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

इसके बाद इस मामले में 17 नामजद लोगों के साथ पूरे गांव के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया गया और बड़ी संख्या में पुलिस बल गांव के लिए रवाना हुई थी। इस दौरान पुलिस टीम पर भी ग्रामीणों ने पथराव कर दिया।

दूसरी तरफ कांग्रेस जिला अध्यक्ष सागर सिंह नेवासखार पहुंचे। उन्होंने वन विभाग पर लॉकडाउन के दौरान कार्रवाई करने में जल्दबाजी का आरोप लगाया। इसके साथ ही लोरमी विधायक धरमजीत सिंह ने लॉकडाउन नियमों का उल्लंघन करने पर वनविभाग की टीम के 21 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी।

Next Story