Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ट्रक चुराने कर दी तीन की हत्या, पुलिस जांच में जुटी

राजनांदगांव में नेशनल हाईवे में पिछले दिनों मिली तीन नग्न लाश की सोमवार को शिनाख्त होने के साथ ही पुलिस को कुछ क्लू भी हाथ लग गए हैं।

ट्रक चुराने कर दी तीन की हत्या, पुलिस जांच में जुटी
X
राजनांदगांव में नेशनल हाईवे में पिछले दिनों मिली तीन नग्न लाश की सोमवार को शिनाख्त होने के साथ ही पुलिस को कुछ क्लू भी हाथ लग गए हैं। पुलिस की माने तो सात लाख रुपए के रेक्जीन और ट्रक की चोरी करने के लिए गिरोह ने इस हत्याकांड को अंजाम दिया है। अज्ञात आरोपियों की पतासाजी करने के लिए पुलिस ने आधा दर्जन टीमों को रवाना भी कर दिया है।
नेशनल हाईवे में स्थित बागनदी थाना क्षेत्र के अंतर्गत गत् 9 अगस्त को मिली एक नग्न लाश की शिनाख्ती करने में जुटी पुलिस के होश उस समय उड़ गए जब दूसरे दिन हाईवे में दो और नग्न लाश मिली। तीनों शवों की स्थिति एक जैसे होने के चलते पुलिस की जांच और पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह साफ हो गया था कि अज्ञात आरोपियों ने तिहरे हत्याकांड को अंजाम दिया है।
शवों की शिनाख्ती कराने में जुटी पुलिस के हाथों सोमवार को उस समय बड़ा क्लू हाथ लगा, जब यूपी के मुजफ्फरपुर से यहां आए अजनेश कुमार ने पुलिस को बताया कि उसका छोटा भाई एवं चालक संजय और दो क्लीनर छोटू और दिनेश सिंकदराबाद से 2 अगस्त को ट्रक क्रमांक यूपी-75-ए-9770 में रेक्जीन लोड कर रायपुर के लिए निकले थे और आज तक रायपुर नहीं पहुंचे।
पुलिस ने जब एक मृतक की फोटो दिखाई तो अजनेश ने पुलिस को बताया कि वह उसका छोटा भाई संजय है। शव की शिनाख्त होने के साथ ही पुलिस ने अपनी जांच तेज कर दी है। पुलिस की माने तो इस तिहरे हत्याकांड के पीछे ट्रक चोर गिरोह का हाथ है। इस गिरोह की पतासाजी करने पुलिस की करीब आधा दर्जन टीमें छत्तीसगढ़ के अलावा आसपास के राज्यों के लिए रवाना हो गयी है।

राजधानी में लिखाई रिपोर्ट

मृतक के भाई अजनेश ने ट्रक चोरी की रिपोर्ट सात अगस्त को राजधानी के खामतरई थाने में कराई है। अजनेश ने पुलिस को बताया कि 2 अगस्त को सिकंदराबाद की राधिका ट्रांसपोर्ट के जरिए रेक्जीन लेकर निकली ट्रक जब नहीं पहुंची तो उन्होंने पुलिस थाने में इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई।

8 अगस्त को हुई थी बात

मृतक के भाई ने पुलिस को बताया कि आठ अगस्त की रात आठ बजे संजय से मोबाइल पर उनकी बात हुई थी। इस दौरान संजय ने उन्हें बताया था कि नो एंट्री के कारण गाड़ी खाली नहीं हो सकी है। दूसरे दिन जब उन्होंने फोन किया तो संजय सहित तीनों का मोबाइल स्वीच आॅफ बताया।

दो माह पहले हुई थी ऐसी वारदात

पुलिस को इस हत्याकांड के पीछे ट्रक चोर गिरोह के हाथ होने की आशंका है। पुलिस ने बताया कि पिछले दो माह पहले राजधानी में भी इसी तरह की वारदात हुई है। जिसमें गिरोह ने दो लोगों की हत्या कर ट्रक चोरी कर ली। पुलिस को शक है कि इसी गिरोह ने ही इस घटना को अंजाम दिया है।

क्राईम ब्रांच ने शुरू की पतासाजी

तिहरे हत्याकांड की जांच करने के लिए एसपी कमललोचन कश्यप और एएसपी राजेश अग्रवाल ने डोंगरगढ़ के एसडीओपी मणिशंकर चंद्रा को प्रभारी बनाया है। उनके साथ पुलिस की करीब आधा दर्जन टीमें लगी हुई है। क्राईम ब्रांच ने मामले में पतासाजी भी शुरू कर दी है।

मिले हैं कुछ क्लू

शव की शिनाख्ती हो गयी है। पुलिस को कुछ क्लू भी मिले हैं। घटना के पीछे गिरोह का हाथ होना सामने आ रहा है।
राजेश अग्रवाल एएसपी

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story