logo
Breaking

बदल सकता है नए मुख्यमंत्री का शपथग्रहण स्थल

साइंस कॉलेज मैदान आयोजित होने वाले मुख्यमंत्री शपथग्रहण समारोह में पानी फिरता नजर आ रहा है। रविवार रात से लगातार हो रही बारिश की वजह से शपथग्रहण स्थल साइंस मैदान में पानी भर गया है।

बदल सकता है नए मुख्यमंत्री का शपथग्रहण स्थल

साइंस कॉलेज मैदान आयोजित होने वाले मुख्यमंत्री शपथग्रहण समारोह में पानी फिरता नजर आ रहा है। रविवार रात से लगातार हो रही बारिश की वजह से शपथग्रहण स्थल साइंस मैदान में पानी भर गया है। ऐसे में अब नए मुख्यमंत्री का शपथग्रहण समारोह इंडोर स्टेडियम में होगा। इसके पहले खबर आ रही थी कि साइंस मैदान में बारिश के कारण दिक्कत आती है तो दीनदयाल में आॅडिटोरियम होने वाला था।

बताया जा रहा है अगर स्थिति सामान्य रही तो भूपेश बघेल साइंस कॉलेज के मुख्य मंच से ही मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। प्रशासन ने सुरक्षा गत कारणों को देखते हुए वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में साइंस कॉलेज ऑडिटोरियम में भी शुरू की तैयारी।

कलेक्टर बसवराजू एस, पूर्व केंद्रीय गृह राज्य मंत्री आरपीएन सिंह और एआईसीसी के प्रवक्ता जयवीर शेरगिल साइंस कॉलेज में मौजूद ऑडिटोरियम और मुख्य मंच दोनों ही स्थानों में तैयारियों का जायजा ले रहे हैं।

इससे पहले खबरें आ रही थी कि बारिश की वजह से इनडोर स्टेडियम में शपथग्रहण समारोह की तैयारी की जा रही है। लेकिन अब खबर रही है कि अब बारिश तेज होने की स्थिति में साइंस कॉलेज के ऑडिटोरियम में ही होगा शपथग्रहण। इस बीच प्रशासन ने सभी मंचों में ताल पत्री लगाने और वाटर प्रूफिंग करने की शुरुआत कर दी है।

बताया जा रहा है कांग्रेस के पदाधिकारी प्रशसनिक अधिकारियों से स्थान परिवर्तन को लेकर चर्चा में जुटे हुए हैं। शपथ ग्रहण समारोह में आने वाले सभी वीवीआईपीयों की सुरक्षा के लिए एसपीजी ने सुरक्षा घेरा तगड़ा कर दिया है।

बता दें वहीं नए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के भव्य शपथग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए कांग्रेस के दिग्गज आ रहे हें। इनमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह चंद्रबाबू नायडू, मोतीलाल वोरा, राजस्थान के नए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री कमलनाथ खासतौर पर शामिल होने आ रहे हैं।

आज सुबह राजधानी पहुंचे मोतीलाल वोरा ने एयरपोर्ट पर inh न्यूज़ से की बातचीत में कहा कि भूपेश सीएम पद के लिए योग्य उम्मीदवार हैं। उन्होंने पांच सालों में छत्तीसगढ़ कांग्रेस को काफी मजबूती प्रदान की है। मुझे उम्मीद ही नहीं विश्वास भी है कि बघेल के नेतृत्व में प्रदेश का बेहतर विकास होगा। अब प्रदेश अध्यक्ष कौन होंगे के सवाल पर उन्होंने कहा कि जल्द ही नए प्रदेशाध्यक्ष की नियुक्ति की जाएगा।







Share it
Top