logo
Breaking

महादेव घाट के विसर्जन कुंड में काम करने वाला मजदूर डूबा खारुन नदी में, गोताखोर ढूंढ रहे शव

खारुन नदी तट पर बनाए जा रहे विसर्जन कुंड में काम करने वाले एक मजदूर की आज डूबकर मौत हो गई. मजदूर दोपहर में भोजन के बाद हाथ मुंह धोने नदी में उतरा था तभी उसका पैर फिसला और वह गहराई में चला गया.

महादेव घाट के विसर्जन कुंड में काम करने वाला मजदूर डूबा खारुन नदी में, गोताखोर ढूंढ रहे शव
खारुन नदी तट पर बनाए जा रहे विसर्जन कुंड में काम करने वाले एक मजदूर की आज डूबकर मौत हो गई. मजदूर दोपहर में भोजन के बाद हाथ मुंह धोने नदी में उतरा था तभी उसका पैर फिसला और वह गहराई में चला गया. इसके बाद बाकी मजदूर उसे बचाने दौड़े लेकिन तब तक वह गहराई में जाकर ओझल हो चुका था. इसके बाद मौके पर मौजूद मजदूरों ने पुलिस को घटना की सूचना दी. पुलिस ने देर रात तक मजदूर को गोताखोरों के माध्यम से ढूँढने की कोशिश की है लेकिन अब तक उसका पता नहीं चल पाया है.
डीडीनगर टीआई अमित शुक्ला के मुताबिक़ मजदूर नीलू पटेल छछानपैरी गाँव का रहने वाला है .वह महादेव घाट के तट पर बनाए जा रहे विसर्जन कुंड में मजदूरी का काम कर रहा था. आज दोपहर खाना खाने के बाद वह एनीकट में हाथ मुंह धोने उतरा था. इसी दौरान उसका पैर फिसला और वह गहराई में चला गया. फिलहाल उसका शव नहीं मिल पाया है. गोताखोर उसे ढूँढने का भरसक प्रयास कर रहे है. संभवतः वह बहकर दूर निकल गया होगा.
Share it
Top