Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजधानी पुलिस का मानवीय चेहरा, नि:संतान बुजुर्ग के अंतिम संस्कार के लिए की ऐसी व्यवस्था

TI रवि तिवारी बताते हैं कि बुजुर्ग के नि:संतान होने की वजह से उनकी पत्नी को अंतिम संस्कार की पूरी रस्म अदायगी का आश्वासन दिया। बुजुर्ग की पत्नी ने मुखाग्नि दी। पढ़िए पूरी खबर-

राजधानी पुलिस का मानवीय चेहरा, नि:संतान बुजुर्ग के अंतिम संस्कार के लिए की ऐसी व्यवस्था
X

रायपुर। राजधानी Police ने लॉकडाउन के दौरान एक ऐसा अनुकरणीय उदाहरण पेश किया है कि हर सुनने वाला Police के इस काम की तारीफ कर रहा है। नि:संतान बुजुर्ग के अंतिम संस्कार के लिए कोई सामने नहीं आ रहा था, क्योंकि लॉकडाउन लागू है और लोगों में corona virus को लेकर भय भी है। ऐसे में पुलिस ने पहल की। मुहल्लेवासियों के सहयोग अंतिम संस्कार की व्यवस्था की। मृतक की पत्नी ने मुखाग्नि दी।

रायपुर के गुढ़ियारी के जनता कालोनी में निवासरत 85 वर्षीय सुरेश कुमार जोशी का गुरुवार को निधन हो गया। परिवार में पत्नी के अलावा कोई दूसरा सदस्य नहीं है, वहीं कोरोना संक्रमण की वजह से आस-पड़ोस के लोग भी आने में संकोच कर रहे थे।

गुढ़ियारी TI रवि तिवारी ने बताया कि इस बात की जानकारी मोहल्ले में ही रहने वाले थाने में पदस्थ आरक्षक ने दी, जिसके बाद अन्य पुलिस कर्मियों के साथ वे बुजुर्ग के घर पहुंचे तो गिनती के दो-चार लोग ही थे। इस पर TI ने ही 'बढ़ते-कदम; से संपर्क कर गाड़ी का इंतजाम करने के साथ श्मशान घाट में अंतिम संस्कार की व्यवस्था की। इधर Police को आगे बढ़कर कार्य करता देख बुजुर्ग के आस-पड़ोस के लोग भी कार्यक्रम में जुटने लगे।

रवि तिवारी बताते हैं कि बुजुर्ग के नि:संतान होने की वजह से उनकी पत्नी को अंतिम संस्कार की पूरी रस्म अदायगी का आश्वासन दिया। बुजुर्ग की पत्नी ने मुखाग्नि दी। कपाल क्रिया के बाद सभी को वापस घर पहुंचाया।

संकट का ऐसा समय,जब पूरी दुनिया संकट से जूझ रही है, नि:संतान बुजुर्ग की अंतिम संस्कार को विधि-पूर्वक संपन्न कराए जाने पर न केवल राजधानी में बल्कि पूरे प्रदेश में चर्चा हो रही है। गुढ़ियारी थाना प्रभारी रवि तिवारी की मानवता की लोग Social Media के जरिए नमन करते हुए साधुवाद दे रहे हैं।

Next Story