logo
Breaking

पोते की लाश देख दादी चल बसी, सदमें में मृतक के पिता ने भी दम तोड़ा

महासमुंद में दुर्घटना में घायल युवक की मौत के बाद लाश को अंतिम संस्कार के लिए गांव लाया गया, जहां पोते की लाश देख दादी की मौत हो गई।

पोते की लाश देख दादी चल बसी, सदमें में मृतक के पिता ने भी दम तोड़ा
महासमुंद में दुर्घटना में घायल युवक की मौत के बाद लाश को अंतिम संस्कार के लिए गांव लाया गया, जहां पोते की लाश देख दादी की मौत हो गई। एक घर से दो लाशों को अंतिम संस्कार के लिए मुक्तिधाम ले जाया गया था कि इसी बीच खबर आई की म्र्तक युवक का पिता भी चल बसा। एक ही परिवार के 3 लोगों को शुक्रवार की शाम दाह संस्कार हुआ, जिसे देख पूरा गांव रो पड़ा।
तुमगांव थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत बांसकुढ़ा के आश्रित ग्राम कुहरी निवासी कुमार खैरवार(36) का 9 अगस्त को छछान पहाड़ी के पास एक्सीडेंड हो गया। कुमार नवगांव से कुहरी के लिये अपने मोटर सायकल से निकला था। घायल अवस्था में उसे हाइवे पेट्रोलिंग द्वारा तुमगांव स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां उसका इलाज हो रहा था लेकिन स्थिति बिगड़ने के साथ उसे रायपुर रिफर कर दिया गया।
राजधानी के नारायणा हास्पिटल में इलाज के दौरान शुक्रवार को उसकी मौत हो गई। मौत के बाद शुक्रवार को देर शाम 7.30 बजे युवक के शव को कुहरी लाया गया। जिसके बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। रात में तकरीबन डेढ़ बजे मृतक युवक की दादी बामहीन बाई उम्र 90 साल ने दम तोड़ दिया। सुबह दोनों की लाश को दाहसंस्कार के लिए मुक्तिधाम ले जाया गया तो सदमे में मृतक के पिता आलेख खैरवार उम्र 68 ने भी दम तोड़ दिया। गांव में एक ही परिवार से तीन लोगों की अर्थी उठी तो पूरे गांव का माहौल गमगीन हो गया।
..........
Share it
Top