Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सीमेंट सप्लाई का झांसा देकर 56 लाख की ठगी, जांच में जुटी पुलिस

तेलीबांधा में सीमेंट सप्लाई करने का झांसा देकर बंटी-बबली गिरोह ने कारोबारी से 56 लाख रुपए ठग लिए। वहीं खम्हारडीह में सतना के सराफा कारोबारी के 50 लाख रुपए के जेवरात लेकर उसके बदले चेक दिया, बैंक से चेक बाउंस हो गया। दोनों मामलों में पुलिस केस दर्ज कर जांच कर रही है।

सीमेंट सप्लाई का झांसा देकर 56 लाख की ठगी, जांच में जुटी पुलिसThe Bunty-Babli gang cheated a businessman of Rs 56 lakh on the pretext of supplying cement in Telibandha.

रायपुर। तेलीबांधा में सीमेंट सप्लाई करने का झांसा देकर बंटी-बबली गिरोह ने कारोबारी से 56 लाख रुपए ठग लिए। वहीं खम्हारडीह में सतना के सराफा कारोबारी के 50 लाख रुपए के जेवरात लेकर उसके बदले चेक दिया, बैंक से चेक बाउंस हो गया। दोनों मामलों में पुलिस केस दर्ज कर जांच कर रही है। तेलीबांधा पुलिस के मुताबिक सिग्नेचर होम्स लभांडी निवासी शुभम सिंघल का सीमेंट कारोबार है और मैग्नेटो माल के तीसरे तल पर दफ्तर है। शुभम का करीब 3 साल से जयदीप डे से परिचय था। वह आरोपी सन्नी बोरबेल के प्रोपराइटर सन्नी जैन और सुरभि जैन निवासी राजनांदगांव से दिसंबर 2018 में मिला। उन्होंने खुद का सीमेंट कारोबारी बताते हुए सीमेंट सप्लाई करने की बात की। उसके झांसे में आकर शुभम ने उनसे 1700 टन सीमेंट का सौदा किया। इसके बाद उसने आरटीजीएस और ऑनलाइन ट्रांसफर के माध्यम से करीब 56 लाख रुपए दिए, लेकिन उसे न ताे सीमेंट मिला और न ही पैसे मिले। इसके बाद उसने पुलिस को सूचना दी।

50 लाख रुपए की ठगी

पुलिस के मुताबिक शंकरनगर सेक्टर एक निवासी साधना आहुजा ने मेसर्स वी. बुलियन के प्रोपराइटर एमपी सतना निवासी विवेक सबनानी और उसके चाचा रतन सबनानी को जेवरात बेचने बुलाया। उनके निवास पर पहुंचने के बाद साधना ने उन्हें सोने और हीरे की ज्वेलरी दिखाया। उनके बीच 50 लाख रुपए के सौदा तय हुआ, जिसके बाद आरोपी विवेक ने जेवरात 50 लाख रुपए का सतना स्थित भारतीय स्टेट बैंक का चेक दिया और जेवरात लेकर चले गए। अगले दिन साधना ने चेक बैंक में जमा किया, लेकिन अकाउंट में पैसे नहीं होने की वजह से वह बाउंस हो गया।

Next Story
Share it
Top