logo
Breaking

छत्तीसगढ़/ ताम्रध्वज को मुख्यमंत्री नहीं बनाए जाने पर चक्काजाम, बंद

मुख्यमंत्री की दौड़ में शामिल ताम्रध्वज साहू के पिछड़ने से नाराज साहू समाज के लोगों ने नाराजगी व्यक्त करते हुए शनिवार को टिकरापारा स्थित साहू कांपलेक्स के पास एकजुट होकर विरोध प्रदर्शन किया।

छत्तीसगढ़/ ताम्रध्वज को मुख्यमंत्री नहीं बनाए जाने पर चक्काजाम, बंद

मुख्यमंत्री की दौड़ में शामिल ताम्रध्वज साहू के पिछड़ने से नाराज साहू समाज के लोगों ने नाराजगी व्यक्त करते हुए शनिवार को टिकरापारा स्थित साहू कांपलेक्स के पास एकजुट होकर विरोध प्रदर्शन किया।

समाज के लोगों ने सबसे पहले कांपलेक्स में अपनी दुकानें बंद कर विरोध किया, उसके बाद कांपलेक्स के पास चक्काजाम कर दिया।

विरोध प्रदर्शन समाज के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष शांतनु साहू, थानेश्वर साहू और प्रदेश महामंत्री प्रवीण साहू के नेतृत्व में किया गया।

समाज के लोगों का आरोप है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में प्रदेश के मुख्यमंत्री साहू समाज के लोगों को देने का वायदा किया था। इसी के तहत ताम्रध्वज साहू को विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी बनाया गया।
इसके कारण साहू समाज ने ताम्रध्वज के मुख्यमंत्री बनने की आस में भाजपा के 14 साहू समाज के प्रत्याशियों में केवल एक को जिताया। साहू समाज के नेताओं ने चेतावनी दी है कि साहू समाज के विधायक को मुख्यमंत्री नहीं बनाए जाने पर आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है।

बैठक करने के बाद निर्णय
ताम्रध्वज के मुख्यमंत्री की दौड़ में पिछड़ने के बाद समाज के नेताओं ने साहू कांपलेक्स में एक बैठक आयोजित की। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लेकर समाज के लोगों ने कांपलेक्स में अपनी व्यावसायिक प्रतिष्ठानें बंद कर विरोध जताया, उसके बाद चक्काजाम किया।
चक्काजाम में समाज के प्रमुख रूप से कृष्णाकांत साहू, युवा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष ऋषि साहू, दिलीप साहू, नीलमणी और तोषण साहू सहित भारी संख्या में समाज के लोग शामिल हुए। चक्काजाम देर शाम शुरू किया गया।
ताम्रध्वज के मुख्यमंत्री नहीं बनाए जाने पर समाज के लोगों ने पूरे प्रदेश में विरोध प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है।
Share it
Top