logo
Breaking

नक्सलियों के नाम सुकमा एसपी का फरमान, आत्मसमर्पण कर दो या बंदूक से मिलेगा मुहतोड़ जवाब

बतौर एएसपी सुकमा में काम कर चुके 2013 बैच के आईपीएस जितेंद्र शुक्ला ने एक बार फिर सुकमा में वापसी की है

नक्सलियों के नाम सुकमा एसपी का फरमान, आत्मसमर्पण कर दो या बंदूक से मिलेगा मुहतोड़ जवाब

बतौर एएसपी सुकमा में काम कर चुके 2013 बैच के आईपीएस जितेंद्र शुक्ला ने एक बार फिर सुकमा में वापसी की है।कमान संभालते ही उन्होंने सोमवार को कार्यालय में प्रेस वार्ता कर नक्सलियों ने नाम फरामान जारी कर दिया है। उन्होंने कहा कि अगर हथियार छोड़ आत्मसमर्पण करने सामने आते हैं, तो हम बिल्कुल उनका स्वागत व सहयोग करेंगे। लेकिन अगर बन्दूक से ही लड़ाई लड़ना चाहते हैं तो उनको जवाब भी वैसा ही मिलेगा। इस मोर्चे पर हम कोई भी समझौता नही करेंगे।

उन्होंने आगे कहा कि इस लड़ाई को बातचीत से भी समाधान निकाल खत्म की जा सकती है हथियार सही रास्ता नहीं है, बेहतर होगा बातचीत का रास्ता निकले। इलाके में शांति बहाली के लिए लोगो के सपोर्ट की आवश्यकता है। लोग सपोर्ट सहयोग के लिए आगे आएंगे तो जल्द सुकमा में शांति और खुशहाली आएगी। हम पूरी कोशिश करेंगे कि पब्लिक और पुलिस के बीच विश्वास को और मजबूत करें।
Share it
Top