Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोटा से लाये गए रायपुर जिले के स्टूडेंट लौटेंगे अपने-अपने घर

रायपुर के इंडोर स्टेडियम से आज शाम 7 बजे के बाद से पालक ले जा सकते हैं बच्चों को

कोटा से लाये गए रायपुर जिले के स्टूडेंट लौटेंगे अपने-अपने घर
X

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बधेल की पहल पर राजस्थान के कोटा में लाॅकडाउन के दौरान छत्तीसगढ़ के फंसे छात्र-छात्राओं की एक सप्ताह पूर्व वापसी हुई थी। आज शाम से रायपुर जिलों के इन बच्चों के घर वापसी का कार्य रायपुर के सरदार बलबीरसिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम से शुरू हो जाएगा।

कलेक्टर रायपुर डा एस भारती दासन ने बताया कि कोटा से बच्चे एक सप्ताह पूर्व छत्तीसगढ़ शासन के विशेष प्रयासों और बसों से रायपुर और विभिन्न जिलों में पहुंचे थे और यहां क्वारेन्टाइन में थे। छत्तीसगढ़ पहुंचने पर इनकी स्वास्थ्य जांच और करोना टेस्ट किया गया है । ये बच्चे अभी स्वस्थ हैं। 14 दिनों की कुल क्वेरेंटाइन अवधि में अब वे अपने घरों में रहेगे तथा सोशल डिस्टेशिग सहित अन्य निर्देशों का पालन करेंगे। घर रवानगी के पहले इसका वचन पत्र भी पालको से लिया जाएगा । उल्लेखनीय है कि रायपुर जिले के 136 बच्चे कबीरधाम और बेमेतरा जिले में क्वारेन्टाइन किये गये थे।

इसी तरह रायपुर में 71 पालको सहित 8 जिलों के 704 बच्चों को क्वारेन्टाइन किया गया था। इन्हे भी आज उनके गृह जिले भेजा जा रहा है । इन बच्चों को चिन्हित किये गए प्रयास आवासीय विद्यालय बालक छात्रावास सड्डू, प्रयास आवासीय विद्यालय बालिका छात्रावास गुढियारी , ज्ञान गंगा स्कूल छात्रावास , एन एच गोयल स्कूल छात्रावास और राज्य वन अनुसंधान एवं प्रशिक्षण केन्द्र में ठहराया गया है। यह भी उल्लेखनीय है कि कुछ बच्चे अपनी माँ के साथ भी कोटा से यहां पहुंचे हैं। उन्हें भी रायपुर में क्वारेन्टाइन अवधि में गुजारने की सुविधा जिला प्रशासन द्वारा दी गई थी ।

Next Story