logo
Breaking

मंत्रियों की संख्या बढ़ाने प्रदेश सरकार लाएगी अशासकीय संकल्प, वादे पूरा करने 11 हजार करोड़ सप्लीमेंट्री बजट

पांचवी विधानसभा का पहला सत्र शुक्रवार से शुरू हो चुका है। 11 जनवरी तक चलने वाले इस सत्र में प्रदेश सरकार दो बड़े काम निपटाने की तैयारी में है। इसमें पहला राज्य में मंत्रियों की संख्या बढ़ाने के लिए अशासकीय संकल्प लाएगी।

मंत्रियों की संख्या बढ़ाने प्रदेश सरकार लाएगी अशासकीय संकल्प, वादे पूरा करने 11 हजार करोड़ सप्लीमेंट्री बजट

पांचवी विधानसभा का पहला सत्र शुक्रवार से शुरू हो चुका है। 11 जनवरी तक चलने वाले इस सत्र में प्रदेश सरकार दो बड़े काम निपटाने की तैयारी में है। इसमें पहला राज्य में मंत्रियों की संख्या बढ़ाने के लिए अशासकीय संकल्प लाएगी।

इसमें मंत्रियों की संख्या 18 तक करने प्रस्ताव है। वहीं दूसरे में सप्लीमेंट्री बजट लाया जाएगा। जो 10 से 11 हजार करोड़ रुपए तक हो सकता है। इन्हें चर्चा के बाद पारित किया जाएगा।
बता दें वर्तमान में प्रदेश में मुख्यमंत्री समेत मंत्रियों की संख्या 13 है। सरकार इसे बढ़ाकर 18 करना चाहती है। इसके प्रदेश की कांग्रेस सरकार द्वारा अशासकीय संकल्प लाया जाएगा। विधानसभा में पारित होने के बाद इसे अनुमति के लिए केंद्र सरकार के पास भेजा जाएगा।
विधानसभा चुनाव में बहुमत के साथ आई कांग्रेस सरकार के कई वरिष्ठ नेता मंत्री पद से वंचित रह गए हैंं। सरकार उन्हें मंत्री बनाने के एिल संकल्प लाना चाहती हैं। अगर केंद्र सरकार यह मान लेती है तो प्रदेश को पांच मं​त्री और मिल जाएंगे।
गौरतलब है सोमवार को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के अभिभाषण और कृतज्ञता ज्ञापन के बाद सरकार सप्लीमेंट्री बजट पेश करेगी। यह चालू वित्तीय वर्ष में सरकार का तीसरा अनुपूरक बजट होगा।
कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में किसानों का कर्ज माफ करने, बोनस देने और शिक्षाकर्मियों को नियमित करने के वादे किए हैं। इन्हें ही पूरा करने के लिए सरकार को सप्लीमेंट्री बजट की जरूरत है।
Share it
Top