Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खास खबर : राजनांदगांव में कोरोना का खतरा बढ़ा, कलेक्टर ने सीएस को लिखा पत्र

कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने राजनांदगाँव जिले की सीमा पर प्रवासी यात्रियों के अत्यधिक दबाव एवं संक्रमण की संभावना को देखते हुए मुख्य सचिव को लिखा पत्र। पढ़िए पूरी खबर-

खास खबर : राजनांदगांव में कोरोना का खतरा बढ़ा, कलेक्टर ने सीएस को लिखा पत्र
X

राजनांदगांव। कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने राजनांदगाँव जिले की सीमा पर प्रवासी यात्रियों के अत्यधिक दबाव एवं संक्रमण की संभावना को देखते हुए मुख्य सचिव आरपी मण्डल को पत्र लिखा है। राजनांदगांव जिले की महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश के साथ लंबी सीमा लगती है। जिले में कुल 6 चेक पोस्ट स्थित हैं, जिसमें मुख्यतया बागनदी चेक पोस्ट में वाहनों का आवागमन अधिक होता है।

बागनदी चेकपोस्ट राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 6 (मुंबई से हजीरा) में स्थित है। इस चेक पोस्ट में प्रतिदिन अनुमानित 10000 से 15000 लोग प्रवेश कर रहे हैं। विगत तीन-चार दिनों में ही इनकी संख्या बहुत अधिक बढ़ी है। भविष्य में इनकी संख्या और अधिक बढ़ने की संभावना है।

कलेक्टर ने मुख्य सचिव को लिखा है, मेरे संज्ञान में यह आया है कि महाराष्ट्र और गुजरात परिवहन विभाग की बसों एवं उन राज्यों से आने वाले ट्रकों के माध्यम से बड़ी संख्या में यात्रियों को बागनदी चेक पोस्ट के समीप उतार दिया जाता है, जिससे लगातार बागनदी चेक पोस्ट पर हजारों लोगों की भीड़ एकत्र हो रही है। इससे राजनांदगाँव जिले में संक्रमण का खतरा बढ़ गया है।

सीमा पर आने वाले यात्री छत्तीसगढ़, झारखंड बिहार, उड़ीसा, पश्चिम बंगाल के निवासी हैं। जिसमें केवल 20% यात्री ही छत्तीसगढ़ के निवासी हैं। इन प्रवासी यात्रियों के सुरक्षित परिवहन हेतु संबंधित राज्य सरकारों के साथ समन्वय की आवश्यकता है।

कलेक्टर ने लिखा है, इन प्रवासी यात्रियों के परिवहन हेतु बड़ी संख्या में बसों की आवश्यकता होगी, जिसका भार राज्य सरकार पर आएगा। उचित होगा कि अन्य राज्यों के निवासियों के परिवहन व्यय का भार संबंधित राज्य सरकारें वाहन करें कृपया उक्त संबंध में उचित कार्यवाही कर पर्याप्त संख्या में बस उपलब्ध कराए जाने का अनुरोध है।

Next Story