logo
Breaking

बेटे ने पुलिस को बताया बाप ने फांसी लगाकर आत्महत्या की,दस दिन बाद मिली पीएम रिपोर्ट में डॉक्टर ने कहा हत्या, अब हुआ केस दर्ज

तिल्दा नेवरा पुलिस ने आत्महत्या के एक मामले में आज ह्त्या और साक्ष्य छिपाने की धाराओं के तहत केस दर्ज किया है

बेटे ने पुलिस को बताया बाप ने फांसी लगाकर आत्महत्या की,दस दिन बाद मिली पीएम रिपोर्ट में डॉक्टर ने कहा हत्या, अब हुआ केस दर्ज

तिल्दा नेवरा पुलिस ने आत्महत्या के एक मामले में आज ह्त्या और साक्ष्य छिपाने की धाराओं के तहत केस दर्ज किया है. पुलिस ने दस दिन पूर्व आत्महत्या के मामले में मर्ग कायम किया था.

लेकिन पोस्टमोर्टेम रिपोर्ट ने आत्महत्या की थ्योरी को पलट दिया इसके बाद पुलिस ने अब जांच की दिशा बदल दी है. फिलहाल असल हत्यारे का अब तक सुराग नही मिल पाया है. लेकिन पुलिस ने इस मामले में मृतक के पुत्र और पत्नी को संदेह के दायरे में रखा है.

तिल्दा टीआई आरके मिश्रा के मुताबिक़ 2 सितम्बर को थाने में लक्ष्मण सिंह चौहान ने सूचना दिया था कि उसके पिता श्रवण सिंह चौहान ने बाथरूम में फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया है .
इसके बाद पुलिस जब मौके पर पहुंची तब उन्हें किसी प्रकार का संदेह नहीं हुआ और पुलिस ने पंचनामा पश्चात मर्ग कायम कर प्रकरण को विवेचना में लिया था. इसके बाद कल मृतक का पीएम रिपोर्ट आया है इसमें डॉक्टर ने श्रवण की मौत का कारण गला घोंटकर ह्त्या बताया है. इसके बाद पुलिस ने आज इस मामले में धारा 302, 201 का केस दर्ज किया है.

यह था मामला

पुलिस के मुताबिक़ मृतक श्रवण सिंह ठाकुर की दो बीबियाँ है वह पहली पत्नी से अलग होकर अब दूसरी पत्नी नंदिनी और उससे हुए पुते लक्षमण के साथ रहता है. दोनों पिता पुत्र ऑटो चलाने का काम करते है. बीती 1 सितम्बर की रात्री को दोनों बाप बेटे में ऑटो टैक्सी स्टैंड के किराए को लेकर बहस हुई थी.
इसके बाद लक्षमण ऑटो लेकर चला गया था. रात करीब दो बजे जब वह लौटा तो श्रवण कमरे में नहीं था. इसके बाद उसने बाथरूम में झाका तब वह फंदे पर लटकते दिखा. इसके बाद उसने अपनी माँ नंदिनी को उठाने के बाद पुलिस को सूचित किया था. पीएम रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस आआब इस मामले में दोनों के बयान को संदेहास्पद मानकर उनसे पूछताछ कर रही है.
Share it
Top