Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने ली विकास कार्यों की समीक्षा बैठक, स्थाई भूमि पट्टा देने का काम पूरा करने के दिए निर्देश

राजस्व मंत्री ने दंतेवाड़ा जिले के अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए विकास कार्यों की समीक्षा बैठक ली, एनएमडीसी के जमीनों में काबिज परिवारों को माननीय मुख्यमंत्री के निर्देश अनुरूप स्थाई भूमि पट्टा देने का कार्य समय पर पूर्ण करने के दिए निर्देश

राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने ली विकास कार्यों की समीक्षा बैठक, स्थाई भूमि पट्टा देने का काम पूरा करने के दिए निर्देश
X

रायपुर. प्रदेश के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री तथा दंतेवाड़ा जिले के प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने आज वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए जिले में कोरोना वायरस (कोविड-19) से बचाव नियंत्रण रोकथाम सहित जिले में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा की। वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में बस्तर के सांसद दीपक बैज एवं दंतेवाड़ा विधायक देवती कर्मा विशेष रूप से शामिल हुए। जिले के कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से जिले में किए जा रहे कार्यों की विस्तार से जानकारी ली।

मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में दंतेवाड़ा जिले में कोरोना वायरस की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए किए जा रहे कार्यो की समीक्षा करते हुए जिला अस्पताल में कोविड अस्पताल, आईसोलेशन वार्ड, कोरोना टेस्टिंग के संबंध में जानकारी ली।दंतेवाड़ा के कलेक्टर ने बताया कि जिले में कोरोना वायरस संक्रमण पूरी तरह से नियत्रित है। उन्होंने बताया कि जिला अस्पताल में कोविड अस्पताल बनाया गया है, जहां पर आईसोलेशन वार्ड तैयार किया गया है। कोरोना टेस्टिंग जगदलपुर मेडिकल कॉलेज से की जा रही है। जिले में अब तक 254 लोगों की जांच की गयी, जिसमें 224 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आयी है। शेष 27 का टेस्टिंग प्रक्रिया जारी है। कलेक्टर ने बताया कि जिले में बाहर से अबतक कुल 1868 श्रमिकों का स्वास्थ्य परीक्षण कर 500 लोगों को कोरोनटाइन सेन्टर में रखा गया था जिनमें से 165 लोगों को 14 दिन पूर्ण होने पर पुनः स्वास्थ्य परीक्षण सामान्य आने पर घर भेजा जा चुका है। मजदूरों के लिए भोजन और आवश्यकताओं की पूर्ति जिला प्रशासन द्वारा की जा रही है। बाहर से आने वाले मजदूरों को नरेगा सहित अन्य योजनाओं के अन्तर्गत रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है।

जिला पंचायत दंतेवाड़ा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने विभागीय जानकारी देते हुए कहा कि महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना के माध्यम से जिले में लगभग 19048 श्रमिक 94% जल संवर्धन का कार्य कर रही है । जिले में 11हजार कुन्टल लघु वनोपजो का संग्रहण किया गया है जिसमें संग्राहकों को महिला स्व सहायता समूहों के माध्यम से 3 करोड़ 44 लाख रुपए का भुगतान किया जा चुका है।

एन एम डी सी के जमीनों में काबिज परिवारों को माननीय मुख्यमंत्री के द्वारा पूर्व निर्देश अनुरूप स्थाई भूमि पट्टावितरण के कार्यों का भी जायजा ली। कलेक्टर ने बताया कि एन एम डी सी ने लगभग 5000 पेकेट सूखा खाद्य सामग्रियों एवं मास्क और सेनेटाइजर का वितरण किया गया है जिस पर मंत्री ने कहा कि एन एम डी सी को राज्य के लोगों के लिए कोरोना काल में बेहतर सेवाओं हेतु सी एस आर मद से उचित आर्थिक सहायता प्रदान करना चाहिए ।

प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के दौरान जिले के वनोपज संग्राहकों को वनोपज के उचित दाम मिले इसके लिए अधिकारियों को समुचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इसी तरह से जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली, सड़क, पुल-पुलियों के निर्माण कार्यों की जानकारी अधिकारियों से ली। उन्होंने बारिश से पहले अधूरे पड़े निर्माण कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। अग्रवाल ने पीडीएस के तहत लोगों को मिलने वाली खाद्य सामग्री सहित बारिश से पहले जिले के दूरस्थ और पहुच विहीन इलाकों में पहले से खाद्यान सामग्री भण्डार करने के निर्देश दिए हैं। अग्रवाल ने जिले के ऐसे व्यक्ति जिनके राशन कार्ड नहीं बन पाए हैं। उन्हें निर्देशानुसार राशन उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए हैं। वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के दौरान जिले में लोक निर्माण, प्रधानमंत्री सड़क योजना, मुख्यमंत्री सड़क योजना, नरेगा, सिंचाई, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी सहित अन्य स्वीकृत निर्माण कार्यों को प्रारंभ करने के निर्देश अधिकारियेां को दिए हैं। राजस्व मंत्री द्वारा आंगनबाड़ी में दर्ज गर्भवती, शिशुवती और किशोरी बालिकाओं को लॉकडाउन के दौरान सूखा अनाज खाद्यान्न के रूप में वितरण की भी जानकारी ली गयी। उन्होने कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य और सुपोषण का कार्य निरंतर जारी रहें जिससे लोगों को बेहतर सुविधा उपलब्ध हो। राजस्व मंत्री नेसांसद दीपक बैज और विधायक कर्मा से चर्चा एवं समन्वय कर उनसे व्यापक सुझाव लेकरजिले में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को मंशानुसार दंतेवाड़ा जिले को गरीबी रेखा सीमा से ऊपर लाने के लिए समुचित प्रयास करें एवं जनप्रतिनिधियों के सुझाव पर वहां स्थानीय जरूरतों के आधर पर आवश्यक निर्माण और विकास कार्य कराना सुनिश्चित करे। अग्रवाल ने विकास कार्यों में स्थानीय लोगों को प्राथमिकता के आधार काम देने के निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री ने कलेक्टर एवं सभी विभागीय अधिकारियों को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखने हेतु बधाई दिए एवं आगे बेहतर कार्य करने हेतु शुभकामनाएं दिए।





Next Story