Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्व मंत्री और उद्योग मंत्री ने ली सुकमा जिले के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक

वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए अधिकारियों की ली बैठक, निर्माण कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश

राजस्व मंत्री और उद्योग मंत्री ने ली सुकमा जिले के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक
X

रायपुर. प्रदेश के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री तथा सुकमा जिले के प्रभारी जयसिंह अग्रवाल ने आज वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए जिले में कोरोना वायरस (कोविड-19) से बचाव नियंत्रण रोकथाम सहित जिले में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा की। वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में प्रदेश के उद्योग मंत्री कवासी लखमा और बस्तर के सांसद दीपक बैज विशेष रूप से शामिल हुए। जिले के कलेक्टर चंदन कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के दौरान जिले में किए जा रहे कार्यों की विस्तार से जानकारी ली।

जयसिंह अग्रवाल ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में सुकमा जिले में कोरोना वायरस की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए किए जा रहे कार्यो की समीक्षा करते हुए जिला अस्पताल में कोविड अस्पताल, आईसोलेशन वार्ड, कोरोना टेस्टिंग के संबंध में जानकारी ली। सुकमा के कलेक्टर ने बताया कि जिले में कोरोना वायरस संक्रमण पूरी तरह से नियत्रित है। उन्होंने बताया कि जिला अस्पताल में कोविड अस्पताल बनाया गया है, जहां पर आईसोलेशन वार्ड तैयार किया गया है। कोरोना टेस्टिंग जगदलपुर मेडिकल कॉलेज से की जा रही है। जिले में अब तक 311 लोगों की जांच की गयी, जिसमें 223 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आयी है। शेष टेस्टिंग प्रक्रिया जारी है। कलेक्टर ने बताया कि जिले में बाहर से आने वाले श्रमिकों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाकर उन्हें कोरोनटाइन सेन्टर में रखा जा रहा है। मजदूरों के लिए भोजन और आवश्यकताओं की पूर्ति जिला प्रशासन द्वारा की जा रही है। बाहर से आने वाले मजदूरों को नरेगा सहित अन्य योजनाओं के अन्तर्गत रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है।

प्रभारी मंत्री अग्रवाल ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के दौरान जिले के वनोपज संग्राहकों को वनोपज के उचित दाम मिले। इसके लिए अधिकारियों को समुचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इसी तरह से जिले के गांव, मजरो-टोलों में बिजली, सड़क, पुल-पुलियों के निर्माण कार्यों की जानकारी अधिकारियों से ली। उन्होंने बारिश से पहले अधूरे पड़े निर्माण कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। अग्रवाल ने पीडीएस के तहत लोगों को मिलने वाली खाद्य सामग्री सहित बारिश से पहले जिले के दूरस्थ और दूगर्म इलाकों में पहले से खाद्यन्न सामग्री भण्डार करने के निर्देश दिए हैं। अग्रवाल ने जिले के ऐसे व्यक्ति जिनके राशन कार्ड नहीं बन पाए हैं। उन्हें निर्देशानुसार राशन उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए हैं। प्रभारी मंत्री ने जिला प्रशासन के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि क्षेत्र के विधायक और प्रदेश के उद्योग मंत्री कवासी लखमा के प्रयासों से जिले के अंदरूणी गांव में पिछले कई सालों से बंद पड़े करीब 126 स्कूलों को पुनः प्रारंभ का कार्य किया गया है। उन्होंने इन सभी स्कूलों को इस शिक्षा सत्र से वहां शिक्षण कार्य प्रारंभ सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के दौरान जिले में लोक निर्माण प्रधानमंत्री सड़क योजना, मुख्यमंत्री सड़क योजना, नरेगा, सिंचाई, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी सहित अन्य स्वीकृत निर्माण कार्यों को प्रारंभ करने के निर्देश अधिकारियेां को दिए हैं। राजस्व मंत्री अग्रवाल ने जिले में राजस्व प्रकरणों के निराकरण के लिए विशेष कैंप आयोजित कर सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए प्रकरण निराकरण करने के निर्देश दिए। इसी तरह से आंगनबाड़ी में दर्ज गर्भवती, शिशुवती और किशोरी बालिकाओं को लॉकडाउन के दौरान सूखा अनाज खाद्यान्न के रूप में वितरण की भी जानकारी ली गयी।





Next Story