Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

क्वारेंटाइन सेंटर से जाने के बाद 2 मजदूरों की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, परिजनों ने प्रशासन पर लगाया गंभीर आरोप

पीड़ित की बहन का कहना है- 'जब क्वॉरेंटाइन अवधि 14 दिन की है, तब भाई को 9 दिन में घर क्यों भेजा गया? पढ़िए पूरी खबर-

क्वारेंटाइन सेंटर से जाने के बाद 2 मजदूरों की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, परिजनों ने प्रशासन पर लगाया गंभीर आरोप
X

कोरबा। क्वारेंटाइन सेंटर में प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है। दरअसल क्वारेंटाइन सेंटर में क्वारेंटाइन किये गये दो प्रवासी मजदूरों को कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट आये बिना ही छोड़ दिया गया। अब दोनों की रिपोर्ट कोरोना कोरोना पॉजिटिव आई है। घर पहुंचने के 2 दिन बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। आनन-फानन में फिर से दोनों को क्वारेंटाइन सेंटर लाया गया है।

कोरोना पॉजिटिव पाया गया एक युवक कटघोरा तहसील के भिलाई बाजार के पास गांव केसला का निवासी है। युवक शासकीय बालक हाई स्कूल हरदीबाजार में क्वॉरेंटाइन किया गया था। हॉटस्पॉट जिले में फिर 2 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने से हड़कंप मच गया है। अब दोनों प्रवासी मजदूरों के परिवार के सदस्यों व पड़ोसियों के सैम्पल जांच के लिए भेजे गए हैं। मरीज की बहन ने प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाया है। पीड़ित की बहन का कहना है- 'जब क्वॉरेंटाइन अवधि 14 दिन की है, तब भाई को 9 दिन में घर क्यों भेजा गया? घर में छोटी बच्ची और बूढ़े माता-पिता हैं। घर लौटने के बाद मेरा भाई इन सभी के संपर्क में आ चुका है। अब यदि किसी को कुछ होता है, तो इसकी जिम्मेदारी पूरी तरह से शासन-प्रशासन की होगी।

वहीं दूसरी तरफ प्रशासन का कहना है कि युवक को क्वॉरेंटाइन अवधि पूरी होने के बाद घर वापस भेजा गया था, लेकिन अब जबकि युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई है। तब उसके पूरे परिवार को क्वॉरेंटाइन करने के बाद सभी का सैंपल लिया जाएगा।



Next Story