logo
Breaking

इकरारनामा के बाद नहीं की रजिस्ट्री, गिरफ्तारी के बाद पता चला फर्जी तरीके से कईयों के नाम पर लिया लोन

आमानाका पुलिस ने जमीन का इकरारनामा कर उसकी रजिस्ट्री नहीं कराने वाले एक शातिर ठग को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने प्रार्थी से साढ़े छः लाख रूपए बयाना के लिए थे और रजिस्ट्री के लिए चक्कर कटवा रहा था। इसके बाद पुलिस ने आज उसे गिरफ्तार किया है। आरोपी के गिरफ्तारी के बाद खुलासा हुआ कि उसने अब तक कईयों को करोड़ों का चूना लगाया था.

इकरारनामा के बाद नहीं की रजिस्ट्री, गिरफ्तारी के बाद पता चला फर्जी तरीके से कईयों के नाम पर लिया लोन

आमानाका पुलिस ने जमीन का इकरारनामा कर उसकी रजिस्ट्री नहीं कराने वाले एक शातिर ठग को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने प्रार्थी से साढ़े छः लाख रूपए बयाना के लिए थे और रजिस्ट्री के लिए चक्कर कटवा रहा था। इसके बाद पुलिस ने आज उसे गिरफ्तार किया है। आरोपी के गिरफ्तारी के बाद खुलासा हुआ कि उसने अब तक कईयों को करोड़ों का चूना लगाया था. थाने में कई पीड़ितों ने अब उसकी शिकायत की है।

आमानाका टीआई रोहित मालेकर के मुताबिक़ आरोपी अमित कुमार सिंह ने प्राथी गोविन्द सिंह से जरवाय की भूमि को बेचने का सौदा कर साढ़े छः लाख रूपए लिए थे इसके बाद से आरोपी भूमि की रजिस्ट्री के लिए टालमटोल कर रहा था।
आरोपी ने भी उक्त भूमि का सौदा सतपाल सिंह नाम के आदमी से किया था। सतपाल सिंह ने उक्त भूमि को उसे नहीं बेचा था इसलिए अमित पिछले तीन साल से उक्त भूमि की रजिस्ट्री गोविन्द के नाम पर नहीं कर पा रहा था. गोविद जब भी रकम वापस करने कहता तो आरोपी उसे टाल देता था।

करोडो की हेराफेरी और दुसरे के नाम से लोन का भी खुलासा

टीआई ने बताया कि आरोपी कि गिरफ्तारी के बाद अब यह खुलासा हुआ है कि उसने जमीन की हेराफेरी और रजिस्ट्री के नाम पर कई लोगो को चपत लगाई है। इसके आलावा आरोपी ने कई लोगों को के जमीन के पेपर लेकर उनके नाम से फर्जी तरीके से कर्ज भी ले लिया है। आरोपी के गिरफ्तारी के बाद आज कई पीड़ितों ने उसके खिलाफ थाने में शिकायत की है। अनुमान है कि आरोपी ने फर्जीवाडा कर करोडो का गोलमाल किया है।
Share it
Top