logo
Breaking

छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, राजस्थान और मिजोरम विधानसभा चुनाव पर बोले सीएम रमन सिंह

भाजपा शासित मुख्यमंत्रियों और उपमुख्यमंत्रियों की बैठक के बाद शाम को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, अरूण जेटली और नितिन गडकरी के उपस्थिति में ये संकल्प लिया गया कि 2019 लोकसभा का चुनाव हम सभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लड़ेंगे और ज्यादा सीटें जीतकर केंद्र में एकबार फिर सरकार बनाएंगे।

छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, राजस्थान और मिजोरम विधानसभा चुनाव पर बोले सीएम रमन सिंह

मंगलवार को दिनभर चली भाजपा शासित मुख्यमंत्रियों और उपमुख्यमंत्रियों की बैठक के बाद शाम को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, अरूण जेटली और नितिन गडकरी के उपस्थिति में ये संकल्प लिया गया कि 2019 लोकसभा का चुनाव हम सभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लड़ेंगे और ज्यादा सीटें जीतकर केंद्र में एकबार फिर सरकार बनाएंगे।

उन्होंने दावा किया कि छग, मप्र, राजस्थान और मिजोरम विधानसभा चुनावों में भी भाजपा की पूरी दमखम के साथ सरकार बनेगी। कारण बताते हुए उन्होंने कहा, केंद्र सरकार के दिशा निर्देश पर सभी राज्यों की भाजपा सरकारें देश के गरीब, किसान और नौजवानों के लिए शिद्दत से काम कर रही है।

चाहे किसानों को बेहतर एमएसपी का मामला हो या फिर 70 वर्षों से लटका पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिए जाने का मामला, एससी एसटी कानून को सख्त किए जाने का सवाल हो या फिर देश में विदेशी घुसपैठियों को एनआरसी के मार्फत खदेड़ने का संकल्प- देश की जनता का विश्वास नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र की भाजपा सरकार बढ़ा है। उसी आधार पर वे राज्यों की भाजपा सरकारों को भी कसौटी पर कसते हैं।

त्रिपुरा और नगालैंड की नई सरकार के साथ मिले

डाॅ. रमन सिंह ने कहा कि पिछली बार हुए भाजपा मुख्यमंत्रियों के सम्मलेन के बाद हम त्रिपुरा, नागालैंड की नई सरकार के साथ इस बार मिले। कर्नाटक विधानसभा चुनाव में केवल 5 विधायकों की संख्या की कमी से हम सरकार बनाने से चूके, लेकिन भाजपा का वोट प्रतिशत बढ़ा और विधायकों की संख्या भी बढ़ी। छग के मुख्यमंत्री ने जोर देकर कहा कि केंद्र की गरीबोन्मुखी स्वच्छ भारत अभियान के तहत अब हम 90 फीसदी ओडीएफ की तरफ बढ़ चले हैं।

सौभाग्य योजना के तहत गरीबों के घरों तक बिजली का कनेक्शन पहुंचा है। उज्जवला योजना ने गरीब महिलाओं की आंखों में नई चमक दी है। उन्हें धुएं से मुक्ति मिली है। वे अब गैस चूल्हे पर खाना बना रही हैं। आयुष्मान भारत योजना से देश के नागरिकों को 5 लाख रुपए तक की स्वास्थ्य सेवा दी जाएगी।

ये सब ऐसे कल्याणकारी योजनाएं हैं जिसके बारे में कांग्रेस की सरकारों ने कभी सोचा भी नहीं था। उन्होंने कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के शानदार सांगठनिक कौशल और प्रधानमंत्री की बेहतर योजनाओं के क्रियान्वयन के दम पर हम सभी विधानसभा चुनावों को जीतने के बाद लोकसभा चुनाव में जीत की ओर अग्रसर होंगे।

चुनानी जीत का फार्मूला तय

मंगलवार को दिनभर चली बैठक में मुख्य रूप से चुनावी जीत का फार्मूला तय कर मुख्यमंत्रियों और उपमुख्यमंत्रियों को दिया गया। प्रधानमंत्री दोपहर में बैठक में शरीक हुए। आते ही उन्होंने चुनावी राज्यों वाले मुख्यमंत्रियों का प्रेजेंटेशन देखा। केंद्रीय योजनाओं की जमीनी हकीकत से रूबरू हुए।

कुछ जरूरी टिप्स दिए। उन्होंने बताया कि कैसे कांग्रेस की ओर से राफेल-डील को लेकर फैलाये जा रहे झूठ का पर्दाफाश जनता के बीच करना है। आगामी 2 अक्टूबर को गांधी जी के 150वीं जयंती को कैसे आयोजित करना है इसपर भी प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों को नसीहत दी।

विपक्षी दलों के बीच कौन बनेगा पीएम पर हो रही चर्चा

एक सवाल के जवाब में रमन सिंह ने कहा, विपक्षी दलों के बीच कौन बनेगा प्रधानमंत्री पर चर्चा हो रही है, मगर पीएम पद की वेकैंसी कहां है। देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आगे बढ़ चला है और विपक्षी दल सूत न कपास, जुलाहों में लट्ठमलट्ठा, टाइप लड़ रहे हैं।

चौधरी का भाजपा में स्वागत

ओपी चौधरी जैसे युवा कलेक्टर के भाजपा में शामिल होने के सवाल पर मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा, यही तो भाजपा की ताकत है कि एक युवा कलेक्टर अगर वो चाहता तो 30 साल लालबत्ती पर घूम सकता था मगर उसने भाजपा अध्यक्ष से मिलकर पार्टी में शामिल होने की इच्छा जताई, संघर्ष का रास्ता चुना।

चौधरी का भाजपा में स्वागत करते हुए रमन सिंह ने कहा कि एक बेहतर अधिकारी के रूप में ओपी चौधरी ने खुद को छत्तीसगढ़ में साबित किया है अब उनका बेहतर उपयोग राज्य की जनता की सेवा में और राजनीति में किया जाएगा।

Share it
Top