Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रायपुर के पानी की गुणवत्ता को देश में पांचवा स्थान, महापौर प्रमोद दुबे ने जाहिर की खुशी

उन्होंने कहा कि सभी नागरिकों को शुद्ध पेयजल मिले इस दिशा में गंभीर प्रयास किए गए हैं। झुग्गी बस्तियों सहित शहर के छोर में बसे रिहायशी इलाकों तक शुद्ध पेयजल की आपूर्ति हो सके इसके लिए ठोस कार्य योजना बनाई गई है।

रायपुर के पानी की गुणवत्ता को देश में पांचवा स्थान, महापौर प्रमोद दुबे ने जाहिर की खुशीRaipur's water quality ranked fifth in the country

रायपुर। रायपुर के पानी की गुणवत्ता को देश में पांचवा स्थान प्राप्त हुआ है। जल की गुणवत्ता जांचने भारतीय मानक ब्यूरो द्वारा 20 राज्यों से लिए गए पानी के नमूने में रायपुर के पानी की गुणवत्ता को देश में 5वां स्थान मिला है। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में इस बात की जानकारी दी। इसके बाद महापौर प्रमोद दुबे ने कहा कि नगरवासियों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने वृहद कार्ययोजना बनाकर नगर निगम व रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने जिस योजनाबद्ध तरीके से कार्य शुरू किया है, इस वजह से शहर के पानी की गुणवत्ता को यह सम्मानजनक स्थान प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के इस गुणवत्ता परीक्षण में रायपुर के जल शुद्धता को देश में पांचवा स्थान मिलना उत्साहजनक है और नगर निगम व स्मार्ट सिटी मिलकर देश में सर्वोच्च स्थान भी प्राप्त करेगी।

उन्होंने कहा कि सभी नागरिकों को शुद्ध पेयजल मिले इस दिशा में गंभीर प्रयास किए गए हैं। झुग्गी बस्तियों सहित शहर के छोर में बसे रिहायशी इलाकों तक शुद्ध पेयजल की आपूर्ति हो सके इसके लिए ठोस कार्य योजना बनाई गई है। सदर बाजार, तेलीबांधा, गुढ़ियारी जैसे रिहायशी इलाकों से योजनाबद्ध ढंग काम शुरू किया गया। उन्होंने बताया कि पेयजल आवर्धन योजना के तहत जल शोधक संयंत्र में नए 80 एम.एल.डी. वाटर ट्रीटमेंट प्लांट की स्थापना के साथ ही 150 एम.एल.डी. प्लांट का अपग्रेडेशन किया गया है।

उन्होंने आगे कहा कि 16 वाटर एटीएम की स्थापना बी.एस.यू.पी. साइट सहित प्रमुख अस्पतालों, उद्यानों, सार्वजनिक स्थलों पर रायपुर स्मार्ट सिटी द्वारा की गई है। जल जनित बीमारियों के संभावित क्षेत्र को चिन्हित कर प्रोफेसर कॉलोनी व अन्य झुग्गी बस्तियों में दो हजार किमी से भी अधिक पाइप लाइन बिछाने का काम तेजी से किया गया। यही वजह है कि इस वर्ष पीलिया व डेंगू जैसी बीमारियां भी रायपुर में पांव नहीं पसार सकी।

उन्होंने बताया कि राम नगर, श्याम नगर सहित 7 गांव में पानी टंकी व जलापूर्ति व्यवस्था का विस्तार किया गया है। सार्वजनिक जल वितरण प्रणाली को सुदृढ़ बनाने कुशालपुर, मोतीबाग में भी पानी टंकी का निर्माण कर पाइप लाइन का विस्तार हो रहा हैं। पेयजल सुलभ कराने की महत्वाकांक्षी कार्य योजना शुरू कर दी गई है, इससे न केवल पानी का अपव्यय रुकेगा बल्कि जल संकट जैसी स्थिति भी निर्मित नहीं होगी और हर घर को 24 घंटे शुद्ध पेयजल प्राप्त होगा।

Next Story
Share it
Top