Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रायपुर : भाजपा-कांग्रेस के बीच वार-पलटवार, तीखे बयानों का दौर शुरू

भाजपा के दिग्गज नेता बृजमोहन अग्रवाल और सुनील सोनी के द्वारा रायपुर शहर की स्वास्थ्य व्यवस्था पर सवाल उठाने के बाद कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने जारी किया बयान। भाजपा नेता गौरीशंकर श्रीवास ने भी अवैध शराब बिक्री पर पूछा सरकार से सवाल। पढ़िए पूरी खबर-

कांग्रेस की इस गलती पर खूब उड़ रहा मजाक, बीजेपी भी ले रही है मजे
X

BJP - Congress

रायपुर। राजधानी रायपुर में इन दिनों भाजपा और कांग्रेस के नेताओं के बीच जमकर बयानबाजी जारी है। कुछ मुद्दों को लेकर भाजपा जहां कांग्रेस पर आरोप लगा रही है, तो कुछ मुद्दों पर कांग्रेस भी भाजपा को घेर रही है।

भाजपा के दो दिग्गज नेता लोकसभा सांसद सुनील सोनी और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने रायपुर नगर निगम के स्वास्थ्य व्यवस्था पर प्रश्न उठाया था। इसके बाद अब छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी ने भाजपा के दोनों नेताओं को लेकर बयान दिया है। कांग्रेस के प्रवक्ता तिवारी का कहना है कि इन दोनों नेताओं को ऐसा सवाल उठाने का कोई हक नहीं बनता, क्योंकि इनकी पार्टी के कार्यकाल में प्रदेश की स्वास्थ्य व्यवस्था कमीशनखोरी के संक्रमण से ग्रसित थी।



छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उनका पूरा मंत्रिमंडल और प्रदेश कांग्रेस कमेटी की पूरी टीम दिन-रात कोरोना महामारी के लड़ाई में जुटी हुई है। जिसका सुखद परिणाम पूरे देश के सामने आया है कि छत्तीसगढ़ राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या भाजपा शासित राज्य उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, कर्नाटक, उत्तराखंड, बिहार, गुजरात से बहुत कम है और एक भी मरीज की मौत नही हुई है। इसका श्रेय उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को दिया है।



इधर भाजपा नेता गौरीशंकर श्रीवास ने एक बयान जारी करते हुए प्रदेश सरकार से पूछा है कि जिस तरह लगातार प्रदेश में शराब के अवैध बिक्री के मामले आ रहे हैं और उन मामलों में जिस तरह कांग्रेस के नेता गिरफ़्तार हो रहे हैं, इसका मतलब क्या यह है कि अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को कोचियागिरी करवाकर सरकार उन्हें इस आपदा में रोज़गार मुहैया करवा रही है?

Next Story