logo
Breaking

रायपुर : मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने कहा आचार संहिता को लेकर आयोग अलर्ट

विधानसभा चुनाव की तैयारियों का जायजा लेने रायपुर आए मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने कहा है कि आदर्श आचार संहिता को लेकर आयोग अलर्ट है,

रायपुर : मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने कहा आचार संहिता को लेकर आयोग अलर्ट

विधानसभा चुनाव की तैयारियों का जायजा लेने रायपुर आए मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने कहा है कि आदर्श आचार संहिता को लेकर आयोग अलर्ट है, इसे किसी सूरत में इसका उल्लंघन नहीं होने दिया जाएग। उन्होंने कहा कि इसके लिए पर्याप्त संख्या में आब्जर्बर और पर्यवेक्षकों को तैनात किए जाएंगे।

दो दिन तक चुनावी तैयारियों को लेकर चली मैराथन बैठक के बाद रावत आज पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग ऐसी व्यवस्था कर रहा है कि कोई प्रभावशाली लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। इसमें शिकायत करने वालों का नाम गुप्त रखा जाएगा। शिकायतों की जांच के बाद कार्रवाई भी की जाएगी।
रावत ने कहा कि नान वैलेबल वारंट को लेकर काम में तेजी लाने के निर्देश दिए गए हैं। जरूरत पड़ेगी तो जेल के अंदर भी छापा मारा जाएगा। ताकि, जेल के अंदर से कोई चुनाव को प्रभावित न कर पाए। एक सवाल के जवाब में उन्होंने बताया कि राज्य में कुल 23632 पोलिंग सेंटर बनाए जा रहे हैं। सारे केंद्रों पर वीवीपीएटी मशीन का इंतजाम रहेगा। सीसीटीवी, वीडियोग्राफी की निगरानी में सारे मतदान केंद्र रहेंगे। ताकि, किसी तरह की गड़बड़ी न हो सकें।
मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि चुनावी कार्य में लगे अफसरों को मतदान के लिए चाक-चौबंद और सुरछित इंतजाम करने के निर्देश दिए गए हैं। चुनाव के दौरान किसी मतदान कर्मी की तबियत खराब होने पर उच्च स्तरीय इलाज के साथ-साथ एयर एंबुलेंस से अच्छे अस्पतालों में उपचार की व्यवस्था होगी।
हर जिले में मीडिया मानिटरिंग सेल बनेगा, जो वेब और फेक न्यूज पर नजर रखेगा। दिव्यांग और असशक्त वोटरों के लिए मतदान केंद्रों पर खास इंतजाम किए जाएंगे। रावत ने एक प्रश्न के उत्तर में बताया कि जिला प्रशासन और पुलिस को निष्पक्ष और भयमुक्त रहने के लिए कहा गया है।
राज्य सरकार को निर्देश दिया गया है कि अफसरों के मसले पर वे अश्वस्त करें कि वे निष्पक्ष हैं किसी राजनीति पार्टी से प्रेरित न हों। चुनाव कार्य में लगे अफसरों के बारे में रावत ने दो टूक कहा कि किसी भी आईएएस, आईपीएस अधिकारी के खिलाफ किसी राजनीतिक दल से प्रेरित होने की सूचना मिलेगी तो उन्हें तत्काल हटा दिया जाएगा
Share it
Top