logo
Breaking

मातृत्व सुरक्षा की खुली पोल, तीन हाथ वाली बच्ची का जन्म, वायरल हो रही Photo

बिलासपुर के अंतर्गत तखतपुर के एक गांव दैजा में महिला ने तीन हाथ वाली बच्ची को जन्म दिया है। तीन हाथ वाली बच्ची के जन्म की खबर के साथ ही उसे देखने वालों का तांता लग गया। वहीं गांव वालों ने बच्ची को देवी का अवतार मानकर उसकी पूजा अर्चना शुरू कर दी है। इसके बाद से ही बच्ची को फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

मातृत्व सुरक्षा की खुली पोल, तीन हाथ वाली बच्ची का जन्म, वायरल हो रही Photo
बिलासपुर के अंतर्गत तखतपुर के एक गांव दैजा में महिला ने तीन हाथ वाली बच्ची को जन्म दिया है। तीन हाथ वाली बच्ची के जन्म की खबर के साथ ही उसे देखने वालों का तांता लग गया। वहीं गांव वालों ने बच्ची को देवी का अवतार मानकर उसकी पूजा अर्चना शुरू कर दी है। इसके बाद से ही बच्ची को फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।
ग्राम दैजा निवासी शिव कुमार साहू की पत्नी राधिका ने 2 नवंबर को घर पर ही बेटी को जन्म दिया था। डॉक्टरों ने चेकअप के बाद बच्ची को एकदम सामान्य बताया। घर की महिलाओं ने बताया बच्ची के सीधे हाथ की तरफ एक और हाथ है।
तीन हाथों वाली इस बच्ची को गांव के लोग देवी का अवतार मान रहे हैं। बच्ची को देवी मान दूर गांव के लोग भी उसके दर्शन को पहुंच रहे हैं।वहीं परिजनों ने बेटी के जनम पर खुशी व्यवक्त करते हुए उसका नाम दिपांजली रखा है। दिपांजली अपने माता—पिता की तीसरी संतान है उसके दो बड़े भाई हैं।
मातृत्व सुरक्षा योजना की खुली पोल
एक तरह से देखा जाए तो तीन हाथ वाली बच्ची के जन्म से मातृत्व सुरक्षा योजना की पोल भी खुल गई है। क्योंकि गर्भाधारण के समय एक बार भी महिला का चेकअप नहीं कराया गया। साथ ही महिला का प्रसव भी घर पर ही हुआ। इन सबसे साफ जाहिर होता है कि गांव की महिलाओं की मॉनि​टरिंग सही तरीके से नहीं हो रही है।
इस मामले में चिकित्सकों का कहना है कि इसे कंजेनाएटल एनामली कहते हैं। इस तरह का मामला लाखों में एक होता है। यह किसी तरक का चमत्कार नहीं है।
Share it
Top