logo
Breaking

पाकिस्तानी छात्रों को घुमाया जाएगा रायपुर, ताकि लेकर जाएं भारत की अच्छी छवि

पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय पाकिस्तानी छात्रों को रायपुर और आसपास के पर्यटन स्थल घुमाने की तैयारी कर रहा है। दक्षिण एशियाई युवा महोत्सव में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान, भूटान, नेपाल, श्रीलंका, इंडोनेशिया सहित 11 देशों के प्रतिनिधि छात्र रायपुर आ रहे हैं।

पाकिस्तानी छात्रों को घुमाया जाएगा रायपुर, ताकि लेकर जाएं भारत की अच्छी छवि

पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय पाकिस्तानी छात्रों को रायपुर और आसपास के पर्यटन स्थल घुमाने की तैयारी कर रहा है। दक्षिण एशियाई युवा महोत्सव में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान, भूटान, नेपाल, श्रीलंका, इंडोनेशिया सहित 11 देशों के प्रतिनिधि छात्र रायपुर आ रहे हैं। 22 से 26 फरवरी तक ये आयोजन हाेंगे। भूटान और श्रीलंका ने अपने छात्रों की सूची रविवि को सौंप दी है। अन्य देशों से भी छात्रों की सूची मंगाई गई है।

इन्हें किसी तरह की दिक्कत ना हो, इसके लिए पूरी तैयारी की जा रही है। रविवि की योजनानुसार विदेशी छात्रों को रायपुर घुमाने की तैयारी है। रायपुर शहर व इसके आसपास के पर्यटन स्थलों की सैर छात्रों को कराई जाएगी।
प्रतिदिन प्रतियोगिताएं पूरी होने के बाद छात्रों के लिए भ्रमण की यह व्यवस्था की जाएगी। रविवि चाहता है कि पड़ोसी देश विशेषकर पाकिस्तान के छात्र भारत की अच्छी छवि लेकर जाएं, इसलिए खास व्यवस्थाएं की जा रही हैं।
सुरक्षा सबसे अहम मुद्दा
रायपुर आने वाले विदेशी छात्रों की सुविधाओं के लिए रविवि ने अभी से तैयारी शुरू कर दी है। रविवि के अनुसार, छात्रों की सुविधा सबसे अहम मुद्दा है। इसके लिए सुरक्षा व्यवस्था की मांग की गई है। सुरक्षा के बाद छात्रों के रुकने और खाने-पीने की व्यवस्था पर फोकस किया जा रहा है।
यूथ फेस्ट के अंतर्गत होने वाले सभी कार्यक्रम रविवि के प्रेक्षागृह सहित अन्य हॉल व पं. दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में होंगे। आयोजन स्थल की बुकिंग करा ली गई है, जबकि होटल की बुकिंग होना शेष है। विभिन्न विषयों को लेकर भिन्न-भिन्न कमेटियां बनाकर उन्हें जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं।
वहीं कमेटी गठन को लेकर किसी भी तरह के विवाद से रविवि ने इनकार किया है। प्रबंधन के अनुसार, सभी कार्य नियमानुसार आपसी सहयोग से किए जा रहे हैं। गौरतलब है कि यूथ फेस्ट की कमेटी में रजिस्ट्रार डॉ. संदीप वनसूत्रे को शामिल ना किए जाने के बाद अंदरूनी विवाद की बातें सामनी आई थीं।
विवाद नहीं
कमेटियों का निर्धारण किया जा चुका है। किसी तरह का कोई अंदरूनी विवाद नहीं है। विदेशी छात्र अच्छी छवि लेकर जाएं, हम इसे लेकर प्रयासरत हैं।
- प्रो. केएल वर्मा, कुलपति, रविवि
Share it
Top