Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

10 का पैकेट 70 में, नमक की किल्लत की अफवाह का नाजायज फायदा उठा रहे व्यापारी

गोल बाजार में लोगों की भीड़ उमड़ी और नमक की खरीदारी करने की जद्दोजहद में जुट गई। पढ़िए पूरी खबर-

10 का पैकेट 70 में, नमक की किल्लत की अफवाह का नाजायज फायदा उठा रहे व्यापारी
X

महासमुंद। कई राज्यों में नमक की किल्लत की अफवाह ने व्यापक रूप ले लिया है। इसका प्रभाव छत्तीसगढ़ के भी कई इलाकों में देखने को मिल रहा है। इसी से संबंधित मामला महासमुंद से आया है, जहां मुख्यालय के गोल बाजार में लोगों की भीड़ उमड़ी और नमक की खरीदारी करने की जद्दोजहद में जुट गई। वहीं व्यापारी भी इस मौके का जमकर फायदा उठा रहे हैं।

बताया जा रहा है कि 10 रूपये के पैकेट को 70 रूपये तक में बेचा जा रहा है। गरीब जनता अब व्यापारियों के द्वारा गुमराह होकर मुनाफाखोरी करने से हलाकान है।

बताया जा रहा है कि महासमुंद में बाजार में मेले जैसे हालात निर्मित हो गये हैं। इस दौरान सोशल डिस्टेंस की जमकर धज्जियां उड़ रही हैं। किराना व्यापारी आम जनता के जेब में डाका डाल रहे हैं। नमक की किल्लत बताते हुए नमक का पैकेट ओवर रेट पर बेचा जा रहा है।

राज्य सरकार मुफ्त बांटेगी नमक

राज्य के साथ देश में नमक का पर्याप्त भंडारण है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने घोषणा की है कि राज्य के 56 लाख राशन कार्डधारियों को शासकीय उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से नमक की निशुल्क उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है। साथ ही राज्य में खुले बाजार में बिकने के लिए हर माह आठ से दस हजार टन नमक की आवक हो रही है। लॉकडाउन की वर्तमान परिस्थितियों में भी खुले बाजार में नमक की उक्त आवक समान रूप से बनी हुई है।

इस मामले में रायपुर जिला खाद्य नियंत्रक अनुराग सिंह भदौरिया का कहना है कि- 'नमक की जिले में कोई कमी नहीं है। पर्याप्त स्टॉक है। यदि कोई दुकानदार अधिक कीमत पर नमक बेचता है तो ग्राहक इसकी शिकायत हमारे पास करें। मुनाफाखोरी करने वाले दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।'


Next Story