Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बिना जांच किए नर्स ने लगा दिया 5 साल की मासूम को DPT का टीका, कोमा में गई बच्ची, परिजनों ने लगाई मदद की गुहार

छत्तीसगढ़ महासमुंद जिले में नर्स की लापरवाही एक गरीब परिवार को उस समय मंहगी पड़ गई जब टीकाकरण के बाद उनकी 5 साल की मासूम कोमा में चली गई। पिथौरा के ग्राम लाखागढ़ आंगनबाड़ी केंद्र में 4 तारीख को सौम्या को डीपीटी का टीका लगाया गया था।

बिना जांच किए नर्स ने लगा दिया 5 साल की मासूम को DPT का टीका, कोमा में गई बच्ची, परिजनों ने लगाई मदद की गुहार

छत्तीसगढ़ महासमुंद जिले में नर्स की लापरवाही एक गरीब परिवार को उस समय मंहगी पड़ गई जब टीकाकरण के बाद उनकी 5 साल की मासूम कोमा में चली गई। पिथौरा के ग्राम लाखागढ़ आंगनबाड़ी केंद्र में 4 तारीख को सौम्या को डीपीटी का टीका लगाया गया था। जिसके बाद बच्ची की तबीयत बिगड़ने लगी और वह कोमा में चली गई। नर्स मंजू लता टांडी ने बिना किसी जांच के बच्ची को डीपीटी का टीका लगा दिया। परिजनों ने टीकाकरण करने वाली नर्स पर लापरवाही का आरोप लगाया है। फिलहाल पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है। पीड़ित परिवार बच्ची के इलाज के लिए प्रशासन से मदद की गुहार लगा रहा है।

मिली जानकारी के मुताबिक परिवार वालों ने बच्ची को गंभीर हालत में प्राइवेट हॉस्पिटल में दिखाया वहां भी बिना किसी जांच के बच्ची को दो इंजेक्शन लगा दिए गए। लेकिन हालत में सुधार होने की जगह और ज्यादा खराब होती चली गई। बच्ची की बिगड़ती स्थिति देख उसे रायपुर ले जाने की सलाह दी गई। इसके बाद परिजन उसे शासकीय अस्पताल पिथौरा ले गए। जहां डॉक्टर द्वारा इलाज किया गया और रातभर रखने के बाद उसे रायपुर रेफर करने की सलाह दी गई। फिलहाल सौम्या को महासमुंद के पिंचा हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। परिजन के आवेदन पर पुलिस प्रथम दृष्टया लापरवाही मानते हुए आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई भी शुरू कर दी है।

Next Story
Share it
Top