logo
Breaking

पुलिस मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने ग्रामीण को उतरा मौत के घाट

छत्तीसगढ़ के वनांचल क्षेत्र में नक्सली हिंसा थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। आए दिन नक्सली वारदात की खबरें सामने आती रही है।

पुलिस मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने ग्रामीण को उतरा मौत के घाट

छत्तीसगढ़ के वनांचल क्षेत्र में नक्सली हिंसा थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। आए दिन नक्सली वारदात की खबरें सामने आती रही है। पहले नक्सली खुद को आदिवासियों का हितैशी बताते थे, लेकिन अब उन्हें ही अपना निशाना बनाने में लगे हुए हैं।

आज भी नक्सलियों ने एक ग्रामीण की पुलिस मुखबिरी के शक में हत्या कर दी। युवक की हत्या के बाद नक्सलियों ने गांव में बैनर और पर्चे भी फेंककर फरार हो गए। इस घटना के बाद से पूरा गांव दहशत में है। मामले की सूचना मिलने से मौके पर पहुंची पुलिस शव पीएम के लिए भेज आगे की कार्रवाई कर रही है।
मिली जानकारी के आमाबेड़ा थाना क्षेत्र के हिरनपाल गांव में बीती रात कुछ हथियार बंद नक्सली घुस आए और उन्होंने सुरेश हुपेंडी का गला दबाकर उसे मार डाला। बताया जा रहा है कि सुरेश अपने ससुराल में रहता था और छोटे—मोटे काम करके गुजारा करता था। काम के चलते सुरेश का गांव से बा​हर लगातार आना—जाना लगा रहता था। इसी के चलते नक्सली उसे पुलिस का मुखबिर समझते थे।
Share it
Top