logo
Breaking

छत्तीसगढ़/ दो महीने में डेढ़ लाख से अधिक युवाओं ने दी रोजगार के लिए रजिस्ट्रेशन की अर्जी

प्रदेश में बेरोजगारी का आलम इस कदर हावी है कि दो महीने में डेढ़ लाख से अधिक युवाओं ने रोजगार के लिए पंजीयन की अर्जी दे डाली। बेरोजागारी भत्ते और नये रोजगार की आस में युवाओं की रोजगार कार्यालय के बाहर लाइन लग गई है।

छत्तीसगढ़/ दो महीने में डेढ़ लाख से अधिक युवाओं ने दी रोजगार के लिए रजिस्ट्रेशन की अर्जी

प्रदेश में बेरोजगारी का आलम इस कदर हावी है कि दो महीने में डेढ़ लाख से अधिक युवाओं ने रोजगार के लिए पंजीयन की अर्जी दे डाली। बेरोजागारी भत्ते और नये रोजगार की आस में युवाओं की रोजगार कार्यालय के बाहर लाइन लग गई है।

रोजगार एवं स्वरोजगार संचालनालय के अनुसार 31 दिसंबर 2018 की स्थिति में राज्य में 2 लाख 38 हजार 161 पंजीकृत बेरोजगार हैं। इनमें करीब डेढ़ लाख से ज्यादा पंजीयन हाल ही के नवंबर व दिसंबर में हुए हैं। इससे पहले बेरोजगारों की संख्या 22 लाख 20 हजार 235 थी।

इसीलिए यह कहा जा रहा है कि कांग्रेस की सरकार बनते ही राज्य में अचानक युवा बेरोजगारों की संख्या डेढ़ लाख बढ़ गई है। चुनावी घोषणा ने नौकरी की तलाश में दर-दर भटकते हताश व निराश युवाओं में उम्मीद जाग गई है।

गौरतलब है कि कांग्रेस सरकार ने बेरोजगारों को 25 सौ रुपए भत्ता देने की बात कही है। वहीं कई विभागों के सरकारी पदों पर नियुक्तियां निकालने, स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराने आदि घोषणाएं की हैं।

यही वजह है कि सभी जिला रोजगार कार्यालयों में युवा पंजीयन कराने उमड़ पड़े हैं। सरकार की घोषणा पर युवाओं को कितना भरोसा है, इसे लेकर शनिवार को रायपुर जिला रोजगार पंजीयन कार्यलाय में पहुंचे युवाओं से सीधी बात की गई।

ये कहना है बेरोजगारों का

नौकरी नहीं तो भत्ता ही सही
समाजशास्त्र विषय से एमए की पढ़ाई किया हूं। सरकारी नौकरी की आस है। मेरी उम्र 36 साल है। राज्य सरकार ने सरकारी नौकरी के लिए उम्र की सीमा बढ़ाई है। साथ ही बेरोजगारी भत्ता देने की बात कही है। ऐसे में पंजीयन जरूरी है। सरकारी नौकरी नहीं, तो बेरोजगारी भत्ता तो मिलेगा।

- विशाखा यादव
आर्थिक मदद मिल सकेगी
12वीं के बाद जेईई की तैयारी कर रहा हूं। मेरे पिता किसान हैं। पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद की जरूरत है। ऐसे में अगर 25 सौ रुपए बेरोजगारी भत्ता मिलेगा, तो कुछ राहत मिलेगी।
- प्रतीक पाठक

जॉब की उम्मीद है
सरकारी नौकरी हो या स्वरोजगार, इसके लिए पंजयीन जरूरी है 12वीं के बाद जॉब की तलाश है। मेरे पिता टेलर हैं। घर पर वही अकेले कमाने वाले हैं। नौकरी मिल जाएगी, तो परिवार की मदद कर सकूंगा।

- हर्षराज सिन्हा

पहली बार पंजीयन करा रही हूं
बारहवी पास हूं। पहली बार पंजीयन करा रही हूं। सरकार ने युवाओं के लिए बहुत सारी घोषणाएं की हैं। पंजीयन कराएंगे, तो काम आएगा।
- पोषमणी साहू
तीन सालों में सरकारी नौकरी की स्थिति
रोजगार एवं स्वरोजगार संचालनालय से मिली जानकारी के अनुसार 2016-से 18 तक पिछले तीन सालों में राज्य के सिर्फ 21 हजार 787 युवाओं को सरकारी नौकरी उपलब्ध हो पाई है। इसमें शासकीय पदों पर सीधी भर्ती, सैन्य भर्ती, व्यापम, पीएससी के माध्यम से नौकरी मिली है।
डेढ़ लाख इजाफा
बेरोजगारी भत्ता व रोजगार देने की घोषणा के बाद राज्य में पंजीयन कराने वालों की संख्या में डेढ़ लाख से अधिक इजाफा हुआ है।
- विवेक आचार्य, संचालक, रोजगार एवं स्वरोजगार संचालनालय
Share it
Top