Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

विधानसभा का मानसून सत्र आज से शुरू, कांग्रेस लाएगी अविश्वास प्रस्ताव- जवाब में भाजपा ने ये कहा

सोमवार से शुरू हो रहे राज्य विधानसभा के मानसून सत्र में मुख्य विपक्ष कांग्रेस राज्य सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश करेगी।

विधानसभा का मानसून सत्र आज से शुरू, कांग्रेस लाएगी अविश्वास प्रस्ताव- जवाब में भाजपा ने ये कहा
X

सोमवार से शुरू हो रहे राज्य विधानसभा के मानसून सत्र में मुख्य विपक्ष कांग्रेस राज्य सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश करेगी। कांग्रेस विधायक दल के नेता टीएस सिंहदेव ने रविवार को रायपुर में हुई विधायक दल की बैठक के बाद देर रात यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव की विधिवत सूचना दी जाएगी।

इसके बाद 2 से लेकर 4 जुलाई के बीच किसी भी दिन अविश्वास प्रस्ताव लाया जाएगा। मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने जवाब में कहा है कि जनता का विश्वास भाजपा के साथ है। हम मजबूती के साथ फिर सरकार बनाएंगे। अगले कार्यकाल में भी यदि ये अविश्वास प्रस्ताव लाए तो हम उसके लिए तैयार हैं।

यह भी पढ़ें- 'भारतीय अर्थव्यवस्था 2025 तक 5,000 अरब डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद'

श्री सिंहदेव ने बताया कि कल पहले दिन स्थगन प्रस्ताव लाया जाएगा। इसके साथ ही अविश्वास प्रस्ताव संबंधी आवश्यक औपचारिकताएं पूरी की जाएगी। उन्होंने बताया कि विधायक दल की बैठक में बहुत से मुद्दों पर चर्चा हुई है। इन मुद्दों को प्रमुखता से उठाने की तैयारी है।

प्रदेश में चल रहे अलग-अलग कर्मचारी संगठनों द्वारा अपनी मांगों को लेकर चलाए जा रहे आंदोलन से संबंधित मुद्दे उठाए जाएंगे। सुपेबेडा में दूषित पानी पीने से बड़ी संख्या में लोगों की मौत से जुड़े मामले को प्रमुखता से उठाया जाएगा। इसके साथ ही सीडी कांड से संबंधित रिंकु खनूजा की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के मामले सहित अन्य कई मामले उठाने की तैयारी है।

अविश्वास पर रमन ने ली चुटकी

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कांग्रेस द्वारा इस सत्र में अविश्वास प्रस्ताव लाने संबंधी खबरों पर चुटकी लेते हुए कहा है कि जनता का विश्वास कांग्रेस के साथ है। 15 साल में कांग्रेस जनता के विश्वास को डिगा पाने में नाकाम रही है।

उन्होंने कहा कि 15 साल हो गए अविश्वास करते-करते। लेकिन मेरा कहना है कि जनता का विश्वास हमारे साथ 15 साल से बना हुआ है। 2018 के चुनाव में पूरी मजबूती के साथ हम फिर सरकार बनाएंगे। और अगले कार्यकाल में भी उनके अविश्वास प्रस्ताव का सामना करने के लिए तैयार हैं।

पैदल मार्च कर विधानसभा पंहुचेंगे अमित

विधानसभा के मानसून सत्र के पहले दिन विधायक अमित जोगी व उनके दो साथी विधायक आरके राय व सियाराम कौशिक पैदल मार्च कर विधान सभा पंहुचेंगे। बताया गया है पैदल मार्च की शुरूआत रजबंधा स्थित भाजपा कार्यालय से की जाएगी। पार्टी प्रवक्ता सुब्रत डे के अनुसार इस प्रदर्शन के दौरान तीनों विधायक एक हाथ में धान की बाली, दूसरे हाथ में भाजपा का 2013 का घोषणा पत्र लेकर चलेंगे।

प्रदर्शन के तरीके के संबंध में पार्टी का कहना है कि ऐसा करने के पीछे भाजपा की वादा खिलाफी उजागर करना मकसद है। भाजपा ने पिछले चुनाव के घोषणा पत्र में किसानों से धान खरीद पर हर साल बोनस देने, सहित कई अन्य वादे किए थे, लेकिन वादे अब तक अधूरे हैं।

भाजपा कार्यालय से पैदल मार्च शुरू करने के पीछे कारण ये बताया जा रहा है कि किसी व्यक्ति की याददाश्त जिस स्थान से चली गई होती है उसे स्थान पर ले जाकर खड़े करने से याददाश्त वापस आ जाती है, ऐसा कहना है डॉक्टरों का। इसी तर्क के आधार पर भाजपा को वादे याद दिलाने के साथ याददाश्त वापस लाने की कोशिश की जाएगी। भाजपा ने 2013 का घोषणा पत्र इसी कार्यालय में बैठकर बनाया था।

रेणु जोगी को भेजा था संदेश

कांग्रेस विधायक डॉ.रेणु जोगी को विधायक दल की बैठक में न बुलाए जाने संबंधी मामले पर टीएस सिंहदेव ने कहा कि पार्टी के विधायक दल के सचिव राजेश तिवारी ने विधायकों को बैठक में आने की सूचना भेजी थी। इस संबंध में उनके पास प्रमाण भी है। श्री सिंहदेव ने कहा कि इस सत्र के लिए वे विधायकों को व्यक्तिगत रूप से संदेश नहीं भेज पाए हैं। प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल को भी रविवार को ही संदेश भेजा गया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story