Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Big News : माओवादियों ने माना-'एनकाउंटर में मारे गए चार नक्सली कैडर संगठन के रीढ़ थे'

नक्सली संगठन ने जारी किया पत्र, कांग्रेस नेताओं को जनअदालत लगाकर देंगे सजा। पढ़िए पूरी खबर-

Big News : माओवादियों ने माना-एनकाउंटर में मारे गए चार नक्सली कैडर संगठन के रीढ़ थे
X
Symbolic Image

राजनांदगांव (अंबागढ़ चौकी)। 8 मई की रात नक्सली और पुलिस मुठभेड़ में चार हार्डकोर नक्सलियों के संबंध में परतें अब खुलकर सामने आ रही हैं। माओवादी संगठन ने माना है कि कि एनकाउंटर में मारे गए चारों नक्सली संगठन की रीढ़ की हड्डी थे। मानपुर के परदोनी में एनकाउंटर से संबंधित नक्सलियों के आरकेबी डिविजन कमेटी ने मारे गए नक्सलियों के संबंध में दो पेज का पत्र जारी कर बताया कि मारे गए नक्सली संगठन के लिए कितने ताकतवर थे।

उल्लेखनीय है कि 8 मई को 10 और 11 बजे की दरमियानी रात नक्सल ऑपरेशन के मुख्यालय मानपुर से महज 7 किलोमीटर दूर ग्राम परदोनी के जंगल में राजनांदगांव जिला पुलिस बल ने बड़ी सफलता के साथ चार हार्डकोर नक्सलियों को ढेर किया। हालांकि इस मुठभेड़ में मदनवाड़ा थाना प्रभारी श्याम किशोर शर्मा शहीद हो गए।

घातक हथियारों के साथ दो महिला, दो पुरुषों की डेड बॉडी की जब पुष्टि हुई तो पता चला कि नक्सलियों के डीवीसी लेबल के सदस्य बल्ली ऊरा उर्फ अशोक, नागेश नरेटी उर्फ कृष्णा, महिला नक्सली आयते उर्फ प्रमिला सीनियर पार्टी सदस्य, सविता सलामी सीनियर पार्टी सदस्य इस मुठभेड़ में मारे गए, जिन पर 15 लाख रुपए का शासन की ओर से ईनाम निर्धारित था।

आरकेबी डीवीजन कमेटी ने पत्र जारी कर मारे गए अपने साथियों को शहीद का दर्जा देते हुए माओवादी संगठन में उनकी जीवन शैली और उनके ताकत के बारे में जानकारी सार्वजनिक किया है।

कांग्रेस नेताओं को जन अदालत लगा कर देंगे सजा-नक्सली संगठन के आरकेबी डीवीजन कमेटी के प्रवक्ता विकास ने पत्र जारी कर उल्लेख किया कि भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टी जनविरोधी हैं। दोनों पार्टी एक थाली के चट्टे बट्टे हैं। पत्र के आखिरी में उन्होंने उल्लेख किया है कि कांग्रेस पार्टी के नेताओं को जन अदालत में सजा देंगे।

2 ढेर नक्सली संगठन के जड़ थे-आरकेबी डिवीजन कमेटी ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि डीवीसी सदस्य अशोक किशोर अवस्था में ही बाल संगठन में भर्ती होकर 2003 में पीएलसीए में भर्ती हुआ। तब से विभिन्न विभागों की जिम्मेदारी निभाते हुए 2016 में उत्तर बस्तर डिवीजन कमेटी में डीवीसी में लिया गया। नक्सली आंदोलन को और आगे बढ़ाते हुए अशोक को 2017 में आर के बी डिवीजन कमेटी में एक महत्वपूर्ण पद पर उसे स्थापित किया गया। इसी तरह नागेश नरेटी उर्फ कृष्णा बाल अवस्था में ही नक्सली संगठन का सक्रिय सदस्य बना 2004 में पीएनजी में भर्ती हुआ। कई जिम्मेदारियों को निभाते हुए 2017 में आरकेबी डिवीजन कमेटी में संयुक्त एसी एशियन की जिम्मेदारी निभा रहा था। मारी गई महिला नक्सली प्रमिला नक्सली संगठन की सीनियर सदस्य थी। बालअवस्था में नक्सलियों के विचारधारा के साथ हो गई। 2008 में पीएलजीए में भर्ती हुई कई मुठभेड़ों में नेतृत्व करते हुए खूंखार महिला नक्सली प्रमिला ने सुरक्षाबलों को बड़े रूप में आघात पहुंचाया। नक्सली प्रवक्ता ने चौथी महिला नक्सली सविता सलामें के बारे में पत्र में उल्लेख किया है कि नारायणपुर क्षेत्र के निवासी सविता जन मलेशिया टीम में काम करते हुए 2008 में पीएलजीए में भर्ती हुई। कई महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों को नक्सली संगठन में निभाते हुए 2017 में संयुक्त एसी में सक्रिय भूमिका निभाते हुए लंबे समय से एक डॉक्टर के रूप में नक्सली संगठन मे अहम भूमिका निभाती रही।

फोर्स ने पहुंचाया नक्सलियों को बढ़ा आघात-आठ मई के मुठभेड़ में चार हार्डकोर नक्सलियों के ढेर होने से नक्सली संगठन का कमर टूट गई है। इस एनकाउंटर के बाद माओवादी संगठन बौखला गया है। इधर नक्सलियों के तरफ से पत्र जारी होने के बाद यह स्पष्ट हो चुका है कि मारे गए नक्सली कैडर नक्सली संगठन के कितने बड़े लीडर थे।

Next Story