logo
Breaking

थाना प्रभारी ने आबादी की जमीन खाली करने वन विभाग के कर्मचारी को दी जान से मारने की धमकी

एक ओर बीहड़ों में जवान कड़कड़ाते ठंड में नक्सलियों से लोहा ले रहे हैं, वहीं दूसरी ओर मानपुर थाना प्रभारी लोमेश सोनवानी खाकी की आड़ में इलाके में रंगदारी करने पर उतर आए हैं

थाना प्रभारी ने आबादी की जमीन खाली करने वन विभाग के कर्मचारी को दी जान से मारने की धमकी
एक ओर बीहड़ों में जवान कड़कड़ाते ठंड में नक्सलियों से लोहा ले रहे हैं, वहीं दूसरी ओर मानपुर थाना प्रभारी लोमेश सोनवानी खाकी की आड़ में इलाके में रंगदारी करने पर उतर आए हैं और रौब दिखाकर लोगों से उनकी जमीन खाली करवाने का काम कर रहे हैं। बताया जा रहा है थाना प्रभारी पर रसूखदारों का हाथ है इसलिए वे खुलेआम गुंडागर्दी पर उतर आए हैं।
मामला वन विभाग कर्मचारी गोविंद प्रसाद शर्मा को शासन द्वारा नौकरी लगने से पहले दिए गए 225 वर्गफिट जमीन का है। वन विभाग के सेवा में आने से पूर्व छोटा-मोटा व्यवसाय कर अपने परिवार का भरण पोषण कर रहा था, अब उनका बेटा मोहनीश उस जगह पर पान की एक छोटी सी दुकान चलाता है। दुकान की हालत जर्जर होने पर गोविंद ने यहां पर नया घर बनाने का काम शुरू किया। इसके बाद से यह मामला शुरू हुआ।
मिली जानकारी के अनुसार थानादार लोमेश सोनवानी ने 4 जनवरी की रात लगभग 7:30 बजे अपने आरक्षकों को वन विभाग में पदस्थ चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी गोविंद प्रसाद शर्मा के घर भेजकर उन्हें थाना लाने को कहा। आरक्षकों ने बलपूर्वक गोविंद को घर से उठाकर थाना ले आया। इसके बाद उनका पूर परिवार दहशत में थाना आ गया। कुछ देर बाद ही थाना प्रभारी लोमेश सोनवानी थाना पहुंचे और गोविंद को गाली गालौच करते हुए आबादी में मिली जमीन को खाली करने की बात कहने लगे।
राजनीतिक दबाव में थानेदार
मानपुर बस स्टैंड स्थित गोविंद शर्मा के 15 बाई 15 के उक्त जमीन पर कुछ राजनीतिक रसूखदारों की नजर है, जो उसे कब्जाना चाहते हैं। उनके इशारों पर थाना प्रभारी लोमेश सोनवानी कठपुतली की तरह नाचते हुए असहाय गरीब परिवार का रोजीरोटी छिनने के लिए अपना पुलिसिया रोल अदा कर रहे है ।
उक्त जमीन पर पुलिस का कोई रोल नहीं
राजस्व अमले की माने तो शर्मा परिवार को आवंटित उक्त भूमि पर राजस्व विभाग और ग्राम पंचायत मानपुर हस्तक्षेप कर सकते है। लेकिन उक्त अबाटित जमीन में जबरिया थाना प्रभारी अपना टांग अड़ा रहे है।
दहशत में शर्मा परिवार
मानपुर एसडीओपी आकाश राव ने बताया कि 4 जनवरी की रात शर्मा परिवार के साथ थाने में की गई अश्लील गाली गलौज और जान से मारने की धमकी के बाद पूरा परिवार थानेदार की धमकी से भयभीत व अपमानित है। 4 इस पूरे मामले का संज्ञान लिया जा रहा है।
Share it
Top