Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मध्यप्रदेश समाचार : ​शिक्षक की पिटाई से तंग आकर छात्र ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा ''आप हिंदू हैं तो मुझे न्याय मिले''

शिक्षक की प्रताड़ना और पिटाई से तंग आकर एक 15 साल के छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। छात्र ने सुसाइड से पहले एक पत्र छोड़ा है जिसमें स्कूल शिक्षक कादिर अली पर आरोप लगाया है कि हिन्दू होने के कारण उसे प्रताड़ित और मारपीट करते थे।

मध्यप्रदेश समाचार : ​शिक्षक की पिटाई से तंग आकर छात्र ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा

खंडवा। शिक्षक की प्रताड़ना और पिटाई से तंग आकर एक 15 साल के छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। छात्र ने सुसाइड से पहले एक पत्र छोड़ा है जिसमें स्कूल शिक्षक कादिर अली पर आरोप लगाया है कि हिन्दू होने के कारण उसे प्रताड़ित और मारपीट करते थे।

टूटी-फूटी और गलत हिंदी में लिखे कथित सूइसाइड नोट में छात्र ने लिखा है, ‘मैं अमन राठौर, मेरे मरने की वजह कादिर अली एमडी है और मैंने आज तक एक लाख रुपये बर्बाद किए हैं। अगर आप हिंदू हैं तो मुझे न्याय मिले।’
घटना खंडवा ​जिला मुख्यालय से करीब 50 किमी दूर धनगांव थाना के अंतर्गत सुलगांव की बताई जा रही है। मामले की जानकारी देते हुए जिला पुलिस अधीक्षक रुचि वर्धन मिश्रा ने बताया, स्कूल प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार छात्र को अनुशासनहीनता के कारण डांटा गया था। छात्र स्कूल में मोबाइल फोन लेकर आता था, जिस पर शिक्षक ने आपत्ति जताई थी। छात्र के इस अनुशासनहीनता की शिकायत उसके पिता से भी की गई थी।
जिसके बाद उन्होंने मृत छात्र को स्कूल से नहीं निकालने का भी आग्रह किया था। हालांकि स्कूल प्रबंधन ने यह भी स्वीकार किया है कि शिक्षक ने लकड़ी के स्केल से छात्र की पिटाई की थी। वहीं पुलिस मामला दर्ज कर इसकी विस्तृत जांच कर रही है। पुलिस ने संबंधित सभी लोगों के बयान दर्ज कर लिए हैं।
बता दें घटना के बाद से शिक्षक फरार है और पुलिस उसकी तलाश कर रही है। धनगांव पुलिस थाना प्रभारी हरीश रावत ने बताया कि अमन सुलगांव के एक निजी एमएच पब्लिक स्कूल में नौवीं कक्षा का छात्र था। शुक्रवार दोपहर को स्कूल के शिक्षक ने अनुशासनहीनता के चलते उसे डांटा और सजा दी थी, इसके बाद स्कूल से घर वापस आने के बाद अमन ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। घटना के वक्त परिवार के अन्य सदस्य खेतों पर गए हुए थे।
Next Story
Top