logo
Breaking

लोकसभा चुनाव 2019ः 7 मार्च को रायपुर का दौरा करेंगे अमित शाह

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद पहली बार सात मार्च को रायपुर आएंगे। लोकसभा की तैयारी के लिए वे यहां इंडोर स्टेडियम में कार्यकर्ताओं के सम्मेलन में कार्यकर्ताओं को रीचार्ज करने के साथ जीत का मंत्र बताएंगे।

लोकसभा चुनाव 2019ः 7 मार्च को रायपुर का दौरा करेंगे अमित शाह

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद पहली बार सात मार्च को रायपुर आएंगे। लोकसभा की तैयारी के लिए वे यहां इंडोर स्टेडियम में कार्यकर्ताओं के सम्मेलन में कार्यकर्ताओं को रीचार्ज करने के साथ जीत का मंत्र बताएंगे।

सम्मेलन के बाद प्रदेश के पदाधिकारियों की बैठक भी लेंगे। राष्ट्रीय अध्यक्ष के इस कार्यक्रम के साथ ही भाजपा का कलस्टरों का कार्यक्रम पूरा हो जाएगा। इसके बाद भाजपा तेजी से लोकसभा की तैयारी में जुटेगी।

भाजपा ने लोकसभा चुनाव के लिए 11 लोकसभा सीटों को तीन कलस्टरों में बांटा है। इसमें से पहले कलस्टर का कार्यक्रम रायगढ़ में हुआ, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आए थे। इसके बाद बिलासपुर में 27 फरवरी को केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह आए।

उप्र के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य शुक्रवार को सूरजपुर में कार्यकर्ताओं के सम्मेलन में शामिल हुए। बिलासपुर कलस्टर बड़ा होने का कारण वहां पर तीन कार्यक्रम किए गए हैं।

बस्तर कलस्टर के कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह शामिल हो चुके हैं। अब एकमात्र रायपुर कलस्टर का ही कार्यक्रम बचा है। इसमें अमित शाह आ रहे हैं। इंडोर स्टेडियम में सात मार्च को रायपुर कलस्टर का कार्यकर्ता सम्मेलन होगा।
रायपुर कलस्टर में रायपुर, महासमुंद, राजनांदगांव एवं दुर्ग लोकसभा क्षेत्र के सभी बूथ प्रमुखों, बूथ सचिवों, बूथ प्रभारियों, शक्ति केंद्र प्रमुख, शक्ति केंद्र संयोजक, शक्ति केंद्र सह संयोजक, मंडल कार्यसमिति, जिला भाजपा व मोर्चा के समस्त पदाधिकारियों, जिला भाजपा व मोर्चा के समस्त कार्यसमिति सदस्यों सहित कलस्टर में निवासरत सभी मोर्चा प्रकोष्ठों के प्रदेश संयोजक सह संयोजक व केंद्रीय पदाधिकारी शामिल होंगे। सम्मेलन में करीब दस हजार कार्यकर्ताओं के आने की संभावना है।
प्रदेश संगठन की लेंगे बैठक
सम्मेलन के बाद शाह एकात्म परिसर आएंगे। यहां वे प्रदेश संगठन की लोकसभा तैयारी काे लेकर बैठक लेंगे। इस बैठक में प्रदेश संगठन के सारे पदाधिकारियों के साथ, कोर ग्रुप के सदस्य, सभी सांसद, विधायक, जिला अध्यक्ष, तीनों कलस्टरों के प्रभारी और सदस्य उपस्थित रहेंगे।
बैठक में मुख्य रूप से लोकसभा चुनाव को लेकर चर्चा होगी। शाह के जाने के बाद प्रदेश में लोकसभा को लेकर भाजपा युद्धस्तर पर जुटेगी।
Share it
Top