Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दिवाली मिलन में जुटा किन्नर समुदाय, नृत्य के जरिए नशामुक्ति का संदेश

छत्तीसगढ़ मितवा संकल्प समिति व समाज कल्याण विभाग छत्तीसगढ़ शासन की ओर से मंगलवार को वृंदावन हॉल में तृतीय लिंग समुदाय का दीपावली मिलन समारोह का आयोजन किया गया।

दिवाली मिलन में जुटा किन्नर समुदाय, नृत्य के जरिए नशामुक्ति का संदेश

रायपुर। छत्तीसगढ़ मितवा संकल्प समिति व समाज कल्याण विभाग छत्तीसगढ़ शासन की ओर से मंगलवार को वृंदावन हॉल में तृतीय लिंग समुदाय का दीपावली मिलन समारोह का आयोजन किया गया। इस दौरान समुदाय के भीतर नशे के बचाव व रोकथाम पर कार्यशाला का भी आयोजन किया गया। यहां प्रदेशभर से 150 सदस्य शामिल होने पहुंचे। कार्यक्रम में छग सहायक पुलिस महानिरीक्षक सीईडी पूजा अग्रवाल ने कहा, नशे की लत को गंभीरता से लेना चाहिए। हमें किसी प्रकार से हानि हो उससे पहले डॉक्टर को दिखाना चाहिए। नशे की लत छोड़कर समाज में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।


प्रशिक्षक रवीना बरिहा ने बताया, नशा हमारे शरीर की मनोदशा व व्यवहार में बहुत जल्द परिर्वतन लाता है। उन्होंने लोगों को नशे से बचाव व हानि से संबधित जानकारी दी। इस दौरान किन्नरों ने नशा मुक्ति का सकंल्प भी लिया। किन्नर समाज क प्रमुख गुरु रमा गुरु समेत विद्या राजपूत समेत अन्य सदस्य उपस्थित रहे। सभी जिलों से पहुंचे सदस्यों ने इस दौरान सामाजिक मुद्दों और समाज की आगामी गतिविधियों पर भी चर्चा की। कई अन्य गतिविधियां भी हुईं।


पांरपरिक ओडिशा नृत्य रहा खास

दीपावली मिलन समारोह में शामिल होने प्रदेश भर से थर्ड जेंडर यहां पहुंचे हुए थे। इस दौरान सभी ने एक.दूसरे मिलकर दीपावली की बधाई दी। दिन को यादगार बनाने सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। यहां थर्ड जेंडर ने मनमोहक डांस की प्रस्तुति देते हुए सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया, जिसमें ऐलीया ने पांरपरिक ओडिशा नृत्य प्रस्तुत किया, वहीं छत्तीसगढ़ी व क्लासिक प्रस्तुति का मुख्य आकर्षण देखने को मिला। नृत्य के जरिए लोगों को नशा मुक्ति का संदेश दिया गया। विद्या राजपूत ने कहा, कार्यक्रम के माध्यम से थर्ड जेंडरों को प्रतिभा दिखाने का मंच दिया गया। भविष्य में भी इस तरह के आयोजन किए जाते रहेंगे, ताकि प्रतिभाओं को मंच मिल सके।

Next Story
Share it
Top