logo
Breaking

जस्टिस प्रीतिंकर दिवाकर का तबादला आदेश बरकरार, कोलेजियम ने किया निर्णय

बिलासपुर हाईकोर्ट के जस्टिस प्रीतिंकर दिवाकर के तबादला को निरस्त करने के अनुरोध को सुप्रीम कोर्ट की कॉलिजयम ने अस्वीकार कर दिया है. इस निर्णय के बाद अब जस्टिस प्रीतिंकर दिवाकर को इलाहाबाद हाईकोर्ट में ज्वाइन करना पड़ेगा।

जस्टिस प्रीतिंकर दिवाकर का तबादला आदेश बरकरार, कोलेजियम ने किया निर्णय
बिलासपुर हाईकोर्ट के जस्टिस प्रीतिंकर दिवाकर के तबादला को निरस्त करने के अनुरोध को सुप्रीम कोर्ट की कॉलिजयम ने अस्वीकार कर दिया है. इस निर्णय के बाद अब जस्टिस प्रीतिंकर दिवाकर को इलाहाबाद हाईकोर्ट में ज्वाइन करना पड़ेगा।
सीजेआई जस्टिस दीपक मिश्रा के साथ जस्टिस रंजन गोगोई,जस्टिस एमबी लोकुर,जस्टिस कुरीयन जोसेफ व जस्टिस एके सिकरी की कोलेजियम समिति ने जस्टिस दिवाकर के प्रस्तुत अभ्यावेदन को पुनर्विचार के बाद अस्वीकार कर दिया है।
जनवरी 2018 में सुप्रीम कोर्ट के कोलेजियम ने प्रशासनिक आधार पर छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के जस्टिस प्रीतिंकर दिवाकर का तबादला इलाहाबाद हाईकोर्ट करने की अनुशंसा की थी। इसके बाद जस्टिस प्रीतिंकर दिवाकर ने अभ्यावेदन प्रस्तुत कर अपने इलाहाबाद किए गए तबादले पर पुनर्विचार करने का आग्रह सुप्रीम कोर्ट के कोलेजियम से किया था।
सीजेआई जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यी सुप्रीम कोर्ट के कोलेजियम समिति ने जस्टिस दिवाकर के पुनर्विचार अभ्यावेदन को विचार-विमर्श के बाद अस्वीकार करते हुए पूर्व में जारी इलाहाबाद तबादला करने की अनुशंसा को बरकरार रखा है।
Share it
Top