Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

छत्तीसगढ़ के इस स्कूल में सात समुंदर पार से आए बच्चों के लिए तोहफे

जांजगी चांपा अकलतरा क्षेत्र के ग्राम मुड़पार के सरकारी स्कूल में नवाचार और सोशल मीडिया प्रचार—प्रसार का असर अब दिखने लगा है। फेसबुक पेज शिक्षा ज्योति से प्रभावित होकर न्यूर्याक में रहने वाले भारतीय मूल के ओम वर्मा नाम के एक शख्स ने स्कूल के बच्चों के लिए आर्थिक सहयोग दिया है।

छत्तीसगढ़ के इस स्कूल में सात समुंदर पार से आए बच्चों के लिए तोहफे
छत्तीसगढ़ जांजगीर चांपा अकलतरा क्षेत्र के ग्राम मुड़पार के सरकारी स्कूल में नवाचार और सोशल मीडिया प्रचार—प्रसार का असर अब दिखने लगा है। फेसबुक पेज शिक्षा ज्योति से प्रभावित होकर न्यूर्याक में रहने वाले भारतीय मूल के ओम वर्मा नाम के एक शख्स ने स्कूल के बच्चों के लिए आर्थिक सहयोग दिया है। ओम वर्मा द्वारा दी गई इस राशि से बच्चों के लिए 31 नग जूते मोजे और ठंड से बचने के लिए 32 नग स्वेटर खरीद कर ​वितरित किया गया।
बता दें स्कूल की शिक्षिका अर्चना शर्मा के प्रयास से ही यह सफल हो पाया है। शिक्षिका अर्चना बताती हैं कुछ दिन पहले उनके फेसबुक मैसेंजर में न्यूयॉर्क सिटी से भारतीय मूल के निवासी ओम से बात हुई थी।
तब उन्होंने बताया कि फेसबुक पेज पर शिक्षा ज्योति पर उनके स्कूल के बारे में देखा और वे स्कूल के बच्चों की पढ़ाई व विभिन्न प्रकार की गतिविधियों ने काफी प्रभावित हैं। इसके बाद उन्होंने कक्षा के बच्चों के लिए आर्थिक सहयोग देने की मंशा जाहिर की।
शिक्षिका अर्चना बताती हैं इसके बाद ओम वर्मा ने दिल्ली में रहने वाली अपनी बहन सुनीता वर्मा के जरिए शासकीय प्राथमिक शाला मुड़पार के कक्षा चौथीं के बच्चों के लिए रुपए भिजवाए। सत्यमेव जयते से प्राप्त इस राशि से आज बच्चों के लिए 31 जूते मोजे और 32 स्वेटर खरीदकर बच्चों को वितरित कराया गया।

कॉन्वेंट स्कूल जैसी होती है पड़ाई

बता दें कि आज प्राथमिक शाला मुड़पार के बच्चों के बारे में सभी जानते हैं। सरकारी स्कूल में कॉन्वेंट स्कूल जैसी पढ़ाई होती है। कक्षा चौथी के बच्चे आपस अंग्रेजी में बात करते हैं। अंग्रेजी में पोएम बना लेते है और उनका अनुवाद कर लेते है।

नवोदय क्रांति की नेशनल मोटिवेटर है अर्चना शर्मा

देश की सरकारी शिक्षा की बेहतरी के लिए कार्य कर रहे देश का सबसे बड़ा राष्ट्रीय समूह नवोदय क्राँति हरियाणा की संस्था है जो आज देश के 20 राज्यों के शिक्षकों के साथ मिलकर शिक्षा की बेहतरी के लिए कार्य कर रहा है।
इस समूह के संस्थापक संदीप ढिल्लन ने अर्चना शर्मा को नेशनल मोटिवेटर नियुक्त किया है। ताकि इनके विभिन्न गतिविधियों एवं अनुभवों का लाभ देश के सभी शिक्षकों को मिल सके।
शर्मा अपने शिक्षण गतिविधियों को फेसबुक पर शिक्षा ज्योति पेज एवं यूट्यूब पर शिक्षा ज्योति के नाम से पोस्ट करती है ताकि इसका लाभ सभी शिक्षकों एवं बच्चों व अभिभावकों को मिले। शर्मा शिक्षा के क्षेत्र में नित नए नए अनूठा पहल करते रहती है।
Next Story
Share it
Top