logo
Breaking

इस डाकघर में स्वर्ग से पहुचे मनरेगा की मजदूरी लेने कई मृतक, ऑडिट में हुआ खुलासा

ग्राम पंचायत गुमा में मनरेगा योजना में मृत व्यक्ती तथा सैकड़ो ग्रामीणों की मजदूरी को फर्जीवाड़ा कर घपले का मामला प्रकाश में आया है. मामला ग्राम पंचायत गुमा विकास खंड आरंग जिला रायपुर छ.ग.का है

इस डाकघर में स्वर्ग से पहुचे मनरेगा की मजदूरी लेने कई मृतक, ऑडिट में हुआ खुलासा

ग्राम पंचायत गुमा में मनरेगा योजना में मृत व्यक्ती तथा सैकड़ो ग्रामीणों की मजदूरी को फर्जीवाड़ा कर घपले का मामला प्रकाश में आया है. मामला ग्राम पंचायत गुमा विकास खंड आरंग जिला रायपुर छ.ग.का है जहा महात्मा गाँधी एन.आर.जी.ए.योजना में तालाब गहरीकरण तथा शमसान घाट पहुच मार्ग के तहत परसकोल खार तालाब ,कोसरंगी खार तालाब ,शमशान घाट पहुच मार्ग के लिए वर्ष 2015-16 एवं 2016-17 में लगभग 350 मजदूर के आस पास मनरेगा योजना में मजदूरी कार्य किये थे.

जिसकी मजदूरी भुगतान हितग्राहियों को प्राप्त नही हुए थे ,अचानक गॉव में जनपद पंचायत आरंग के मनरेगा योजना की ऑडिट दल ग्राम पंचायत में पहुचे थे जो उक्त कार्यो के संबंध में सभी हितग्राहियों से कार्यो की हाजरी तथा मजदूरी भुगतान के संबंध में पूछताछ किया गया ,जिसमे मजदूरों को ज्ञात हुवा की मजदूरी भुगतान को फर्जी हस्ताक्षर कर राशि आहरण कर लिया गया है.

जिसमे मृत व्यक्ति की मजदूरी को उनके मृत होने के बाद उनके फर्जी हस्ताक्षर कर राशि निकले जाने का मामला प्रकास में आया ,जो की राजेश पिता परस जिसकी मृत्यु हो गयी है ,जिसकी मृत अवस्था के बाद राशि आहरण किया गया है ,मेट भुनेश्वर साहू तथा बिसुन वर्मा पोस्ट मास्टर बाना द्वारा मजदुरो का पास बुक को एंट्री कराने के नाम से 15 माह से अपने पास रखे थे, जो की मजदूरों हस्ताक्षर के बगैर फर्जीवाड़ा कर मजदूरी की राशि को आहरण कर लिया गया है.

जिसमे उदाहरण स्वरूप शिकायत में मजदूरों ने अपनी शिकायत में कुछ हितग्राहीयो का नाम का उल्लेख किया है ,जिसमे फर्जी हस्ताक्षर कर राशि आहरण किया गया है जिसमें श्रीमती राजेश्वरी ध्रुव पति सोमनाथ ,सविता पिता कु.परस कोसरिया परस कोसरिया पिता भगोली रनजीत साहू पिता परस परस साहू पिता साधू रामबाई पिता परस राधू पिता परस गोमती पति राजू राजेश पिता परस ,गरीबदास मिरी पिता घनाराम ,लोना बाई पति गरीबदास ,कुम्भकरन पिता गरीबदास मधुबाला पति कुम्भकरन ,रामायण पिता मंगल दास ,जगजीवन टंडन पिता जीवराखन सुशीला पति जगजीवन सहित सेकड़ो मजदूरों की मजदूरी का फर्जीवाड़ा प्रकाश में आया है.

जिसके संबंध में शिकायत सैकड़ो मजदुरो ने लिखित शिकायत कलेक्टर जनदर्शन ,सी.ई.ओ.जनपद पंचायत आरंग को किया है ,जिसमे अभी तक कोई सार्थक कार्यवाही नही नही होने से हितग्राहीगण आक्रोशित है |मजदूरों का आरोप है की मजदूरों की कोई सुनवाई नही होती है. मजदुरो ने सरकार से मांग की है की फर्जीवाड़ा करने वाले कर्मचारी के विरुद्ध फर्जीवाड़ा का अपराध दर्ज किया जाये तथा मजदूरी भुगतान को प्रदान की आग्रह किया है

दोषियों पर कारवाई हो

इस मामले की जानकारी मिलने के बाद जिला पंचायत रायपुर के पूर्व सदस्य परमानद जांगडे ने कहा कि मनरेगा हितग्राहियों के साथ न्याय होना चाहिए. जो भी दोषी अधिकारी है उसके खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर उसे जेल भेजने की कार्रवाई तत्काल की जाए.
Share it
Top