logo
Breaking

अगर अजय चंद्राकर में साहस हो और उनमें जरा भी नैतिकता बची हो तो तत्काल इस्तीफा दें- कांग्रेस

कर्ज माफी के बाद भाजपा नेता और कुरूद विधानसभा क्षेत्र के विधायक अजय चंद्राकर अपने ही बयान में घिर गए हैं

अगर अजय चंद्राकर में साहस हो और उनमें जरा भी नैतिकता बची हो तो तत्काल इस्तीफा दें- कांग्रेस
प्रदेश के किसानों में कर्ज माफी होने के बाद से खुशी का माहौल बना हुआ है। वहीं दूसरी ओर कर्ज माफी के बाद भाजपा नेता और कुरूद विधानसभा क्षेत्र के विधायक अजय चंद्राकर अपने ही बयान में घिर गए हैं। अब कांग्रेसी नेताओं ने उनसे इस्तीफे की मांग की है।
दरअसल अजय चंद्राकर ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा था कि यदि कांग्रेस ने किसानों का कर्जा माफ कर दिया तो वे तत्काल इस्तीफा दे देंगे। कर्ज माफी किए जाने के बाद कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि अजय चंद्राकर में साहस हो और उनमें जरा भी नैतिकता बची हो तो तत्काल विधायक पद से इस्तीफा दें।
उन्होंने आगे कहा कि भारतीय जनता पार्टी और उसके नेता आदतन किसान विरोधी है, जब सरकार में थे तब उन्होंने ने लगातार किसानों से वायदा खिलाफी किया था. हर चुनाव के पहले किसानों से बड़े-बड़े वायदे किए। धान पर बोनस की बातें कही चुनाव जीतने के बाद बार-बार किसानों को ठगा अब जब कांग्रेस की सरकार किसान हित के फैसले ले रही है तो भाजपाई इसका स्वागत करने के बजाय किसान विरोधी बयान बाजी कर रहे हैं।
Share it
Top